'भगत ये न कहने लगें कि मोदी जी ने आज़ादी दिलाई'

गांधी इमेज कॉपीरइट Facebook, Getty, Reuters

खादी ग्रामोद्योग के कैलेंडर और डायरी में महात्मा गांधी की जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर छपने को लेकर चर्चा जोर पकड़ रही है.

इसी बीच हरियाणा सरकार के मंत्री अनिल विज ने अंबाला में कहा, ''प्रधानमंत्री मोदी खादी के लिए गांधी से बड़े ब्रान्ड एंबेसडर हैं.''

विज ने कहा, ''गांधी जी ने खादी का ट्रेडमार्क नहीं करा रखा है. पहले भी कई बार उनकी तस्वीर नहीं लगी है.'' हालांकि विज ने बाद में ट्वीट कर अपना बयान वापस लिया.

इमेज कॉपीरइट Twitter

अनिल विज के इस बयान और बयान वापसी की चर्चा सोशल मीडिया पर भी रही. पढ़िए किसने क्या कहा?

@RoflGandhi_ ने ट्वीट किया, ''बयान वापस कैसे लेते हैं सर. कोई पाइप लगवा रखी है क्या? क्षमा याचना तो सुना था.''

इमेज कॉपीरइट Getty, Facebook, Ap

@mausamii2u ने लिखा, ''वाह साहेब सियासत में सब जायज़ है? तो मोदी जी गांधी से छोटे ब्रांड हैं?''

इमेज कॉपीरइट Twitter

अमित सिंह ने लिखा, ''फिक्र मत कीजिए सर. कुछ लोगों में सच बोलने की हिम्मत नहीं होती है. हमें नोट में गांधी के साथ में भगत सिंह और बोस चाहिए.''

@sanjeevjena1 ने लिखा, ''इंतजार कीजिए. पांच राज्यों में लोग आपको जल्द बताएंगे.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

विकास शर्मा ने लिखा, '' इसमे गलत क्या कह दिया. बिलकुल सही. ये तो प्रकृति का नियम है. नए आएंगे, पुराने जाएंगे. वापस मत लो बयान.''

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

फजल हक खान कादरी ने फेसबुक पर लिखा, ''भगत कहीं ये न चिल्लाने लगें कि मोदी जी ने ही आजादी की जीत दिलवाई थी.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे