'हीराखंड एक्सप्रेस पलट गई है, प्रभु जी मदद भेजिए'

इमेज कॉपीरइट @ChinmayiPurohit
Image caption चिन्मई पुरोहित ने रेलवे मंत्रालय और रेल मंत्री सुरेश प्रभु को टैग कर किए ट्वीट के साथ ये तस्वीर साझा की है.

भारतीय रेल के प्रवक्ता अनिल सक्सेना ने शनिवार देर रात हुए हीराखंड एक्सप्रेस रेल हादसे के बारे में बीबीसी संवाददाता दिलनवाज़ पाशा से बात करते हुए कहा, "हादसे की जांच सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए की जा रही है. पता लगाया जाएगा कि क्या ये ह्यूमन एरर है या कोई और वजह."

जब उनसे पूछा गया कि क्या हादसे के पीछे कोई साज़िश भी हो सकती है तो उन्होंने कहा, "हम सभी आशंकाओं को ध्यान में रखते हुए जांच करेंगे. इसमें साज़िश वाली आशंका को भी ध्यान में रखते हुए जांच की जाएगी."

शनिवार देर रात हीराखंड एक्सप्रेस के आंध्र प्रदेश के विजयनगरम ज़िले में पटरी से उतर जाने के हादसे में अब तक 32 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई है.

जब उनसे पूछा गया कि बीते तीन महीनों में ये तीसरा बड़ा हादसा है तो उन्होंने कहा, "ये हादसा हमारे लिए एक चुनौती है, दुखद है, दुर्भाग्यपूर्ण है. हम कोशिश करते हैं कि हादसे की तह तक जाएं और कारणों का पता लगाएं और सुधारात्मक क़दम उठाएं."

प्रधानमंत्री कार्यालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, "रेल मंत्रालय स्थिति पर क़रीब से नज़र बनाए हुए हैं. बचाव और राहत का काम तेज़ी से किए जाने के इंतज़ाम किए जा रहे हैं."

हादसे के बारे में पूरी रिपोर्ट पढ़ें

कानपुर के पास क्यों हो रहे हैं रेल हादसे?

भारत में अब तक हुए बड़े रेल हादसे

हादसे के फ़ौरन बाद चिन्मई पुरोहित नाम की एक लड़की ने हादसे के तुरंत बाद रेलमंत्री सुरेश प्रभु को टैग करते हुए ट्वीट किया.

अपने ट्वीट में चिन्मई ने लिखा, "हीराखंड एक्सप्रेस पलट गई है. सुरेश प्रभु, रेल मंत्रालय भारत, कृपया तुरंत बचाव अभियान की व्यवस्था कीजिए."

इमेज कॉपीरइट @ChinmayiPurohit

चिन्मई पुरोहित ने ये ट्वीट 12.03 मिनट पर किया था.

भारत के रेल मंत्रालय के आधिकारिक अकाउंट से 12.25 मिनट पर इस ट्वीट के जवाब में विशाखापटनम रेलवे डिवीज़न के अकाउंट (@Drmwat_ecor) को टैग करते हुए ट्वीट किया गया, "तुरंत देखिए."

हालांकि सुरेभ प्रभु के अकाउंट से चिन्मई के ट्वीट पर कोई जवाब नहीं आया.

चिन्मई ने जो तस्वीर साझा की है उसमें यात्री ही यात्रियों की मदद करते हुए दिख रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)