विराट कोहली से ज़्यादा रूचि नागिन में?

इमेज कॉपीरइट Colors

ऐसा अक्सर होता है कि जिन दिनों भारतीय क्रिकेट टीम के मैच का टीवी प्रसारण होता है तो बाकी सारे कार्क्रम और चैनल एक तरफ़ हो जाते हैं और दूरदर्शन और स्टार स्पोर्ट्स जैसे चैनलों की तूती बोलती है.

लेकिन नागिन के सीज़न 2 का ऐसा जादू दर्शकों पर चल गया है कि क्रिकेट मैच को भी दूसरे पायदान से काम चलाना पड़ा है.

मनोरंजन कार्यक्रमों की सूची में पहले पाँच पायदानों पर क्रमश : नागिन सीज़न 2 (कलर्स), भारत बनाम इंग्लैंड मैच (दूरदर्शन), नागिन (रिश्ते), कुमकुम भाग्य (ज़ी टीवी) और शक्ति अस्तित्व के एहसास की (कलर्स) को जगह मिली है.

बार्क अपनी रेटिंग में टीवी पर दिखाए जाने वाले और भी कई वर्गों के कार्यक्रमों को जगह देता है और इनमें से प्रमुख वर्ग और उनके टॉप 5 कार्यक्रम इस प्रकार हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अंग्रेज़ी मनोरंजन चैनल

स्टार वर्ल्ड पर करण जौहर के कार्यक्रम कॉफ़ी विद करण के आने के बाद से इस चैनल की टीआरपी को कमाल का उछाल मिला है और यह टीआरपी में शीर्ष पर बना हुआ है.

स्टार वर्ल्ड के बाद बाद के चार स्थानों पर क्रमश: कॉमेडी सेंट्रल, ज़ी कैफ़े, एएक्सएन और कलर्स इनफ़िनिटी मौजूद रहे.

पढ़ें- फ़िल्म पद्मावती के सेट पर संजय लीला भंसाली के साथ मारपीट

टीआरपी रेस में 'नागिन' का दबदबा बरकरार

बॉक्स ऑफिस पर 'रईस' बनने के 'काबिल' कौन?

हिंदी न्यूज़ चैनल

हिंदी न्यूज़ चैनलों के मामले में आज तक ने दर्शकों की संख्या के आधार पर पहला स्थान हासिल किया है और फिर बाद के चार स्थानों पर क्रमश : इंडिया टीवी, ज़ी न्यूज़, एबीपी न्यूज़ और इंडिया न्यूज़ रहे.

एबीपी न्यूज़ ने हाल ही में अपना लोगो और रंग रुप बदल कर दर्शकों को अपनी ओर खींचने की कोशिश की है और इस नई रंगत का प्रभाव अगले हफ़्ते की टीआरपी में साफ़ हो पाएगा.

सिनेमा चैनल

ये एक अनोखी बात है कि सिनेमा चैनलों की सूची में टॉप पर रहने वाले सेट मैक्स को यह स्थान किसी फ़िल्म की वजह से नहीं बल्कि प्रो रेसलिंग लीग के कारण मिला है.

प्रो रेसलिंग में लड़ी गई बाबा रामदेव वाली कुश्ती को देखने के लिए कई लोगों ने अपने टीवी सेट को ऑन किया था.

ज़ी सिनेमा पर दिखाई गई 'ए फ़्लाईंग जट' को भी ख़ूब दर्शक मिले हैं.

इमेज कॉपीरइट zee tv

बच्चों के चैनल

बच्चों के चैनलों के मामले में निक सबसे आगे है, इस अमरीकी चैनल का पहले नाम निकोलोडियन था लेकिन जब से भारत में इसे निक के नए नाम के साथ उतारा गया है, इस चैनल ने धूम मचा रखी है.

इस चैनल को नंबर एक का दर्जा दिलाने में सबसे बड़ा हाथ रहा है 'मोटू पतलू' धारावाहिक का जिसे बच्चों के साथ साथ बड़े भी चाव से देख रहे हैं.

निक के बाद टीआरपी रेटिंग में क्रमशः कार्टून नेटवर्क, हंगामा, पोगो टीवी और डिज़्नी चैनल हैं.

युवाओं के चैनल

इस श्रेणी के कार्यक्रम भले ही ख़बरों में न आते हों लेकिन इन्हे देखने वाले युवाओं की संख्या अच्छी ख़ासी है.

एम टीवी पर आने वाले लव स्कूल जैसे कार्यक्रम युवाओं में खासे लोकप्रिय हैं और इसी के चलते एम टीवी टीआरपी रेटिंग में अपने वर्ग में पहले पायदान पर काबिज़ है.

(सभी आँकड़े टीआरपी जुटाने वाली आधिकारिक एजेंसी बार्क के द्वारा उपलब्ध करवाए गए हैं, यह रेटिंग 14 जनवरी 2017 से 20 जनवरी 2017 तक दिखाए गए कार्यक्रमों को मिली लोकप्रियता के आधार पर हैं )

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)