ट्रंप ने दरवाज़ा बंद किया, इस देश ने किया स्वागत

जस्टिन ट्रूडो इमेज कॉपीरइट Twitter

अमरीका के नए राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों के अपने यहां आने पर रोक लगा दी है जिसके बाद दुनिया भर में हंगामा मच गया है.

अमरीका जाने के ख़्वाब सजा रहे इराक़, सीरिया, ईरान, लीबिया, सोमालिया, सूडान और यमन के शरणार्थियों को अब काफ़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा.

फ़ैसले की चौतरफ़ा निन्दा, पर ट्रंप अड़े

डोनल्ड ट्रंप के आदेश पर ईरान में है भारी ग़ु्स्सा

इन देशों के अलावा पाकिस्तान को भी प्रतिबंधित देशों की इस सूची में डालने की आशंका जताई जा रही है.

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

एक तरफ़ ट्रंप बाहरी लोगों के लिए अमरीका के दरवाज़े बंद कर रहे हैं, दूसरी ओर उनका पड़ोसी मुल्क़ कनाडा बाहें खोलकर शरणार्थियों को स्वागत कर रहा है.

और इसकी नुमाइंदगी ख़ुद प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो कर रहे हैं.

कनाडा ने खोला दरवाज़ा

डोनल्ड ट्रंप ने अपने फ़ैसले से पीछे ना हटने की बात कही है. उन्होंने ट्वीट किया, ''हमारे देश को मज़बूत सीमाओं की ज़रूरत है और काफ़ी सोच-विचार की भी. आप देखिए कि सारे यूरोप में क्या हो रहा है, पूरी दुनिया मुश्किल में है.''

उन्होंने आगे लिखा है, ''हमेशा तीसरा विश्व युद्ध शुरू करने की कोशिश की बजाय सीनेटरों को अपनी ऊर्जा आईएसआईएस, अवैध इमिग्रेशन और सीमा की सुरक्षा पर लगानी चाहिए.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

दूसरी तरफ़ कनाडा शरणार्थियों का स्वागत कर रहा है. वहां सोशल मीडिया पर #WelcomeToCanada काफ़ी ट्रेंड कर रहा है.

प्रधानमंत्री ख़ुद आगे आए

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने ट्वीट किया, ''जो लोग अत्याचार, आतंकवाद और जंग से भाग रहे हैं, कनाडा उनका स्वागत करेगा, भले आप किसी भी मज़हब को माननो वाले हों. विविधता ही हमारी ताक़त है.''

इसके साथ-साथ जस्टिन ट्रूडो ने #WelcomeToCanada के साथ एक तस्वीर भी ट्वीट की, जिसमें वो एक नन्हीं लड़की के साथ नज़र आ रहे हैं.

जस्टिन ट्रूडो ने इससे पहले भी कई बार युद्ध जैसे हालत से भागकर कनाडा पहुंचने वाले लोगों का स्वागत किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे