सोशल: हाफ़िज़ सईद को नज़रबंद किए जाने पर क्या बोले पाकिस्तानी?

हाफ़िज़ सईद इमेज कॉपीरइट Reuters

पाकिस्तान ने जमात-उद-दावा प्रमुख हाफ़िज़ सईद को उनके घर में नज़रबंद कर दिया है.

हाफ़िज़ प्रतिबंधित चरमपंथी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के भी प्रमुख थे.

भारत और अमरीका उन्हें 2008 के मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड मानते हैं जिसमें 174 लोग मारे गए थे.

हाफ़िज़ को नज़रबंद किए जाने की भारत और पाकिस्तान दोनों में चर्चा है. दोनों ही मुल्कों में हाफ़िज़ को नज़रबंद किया जाना सोशल मीडिया पर टॉप ट्रेंड रहा.

पहले जानिए पाकिस्तान में किसने क्या कहा?

उमर ने लिखा, ''हाफ़िज़ सईद एक सच्चा देशभक्त बेटा जो बाकी लोगों की तुलना में 100 फीसदी ज़्यादा पाकिस्तानी सेना की इज्जत करता है.'

इमेज कॉपीरइट TWITTER

इमरान शेख ने नज़रबंद किए जाने पर तंज कसते हुए लिखा, ''आखिरकार हाफ़िज़ सईद एंड कंपनी को प्रोटेक्टिव कस्टडी में ले लिया गया है. शुक्रिया डोनल्ड ट्रंप.'

इमेज कॉपीरइट TWITTER

@Velabhai1 ने ट्वीट किया, ''हाफ़िज़ सईद को घर में नज़रबंद किया गया है. यानी उनको अब चिकन बिरयानी की होम डिलिवरी की जाएगी.''

इमेज कॉपीरइट TWITTER

@hussainlove12 ने लिखा, ''अमरीका के दबाव में पाकिस्तान ढेर. जमात-उद-दावा के मुखिया हाफ़िज़ नज़रबंद.''

हाफ़िज़ की नज़रबंदी, भारत में क्या बोले लोग?

इंद्र ने ट्वीट किया, ''डोनल्ड ट्रंप का असर है कि हाफ़िज़ सईद पर नकेल कसी गई. डोनल्ड ट्रंप ने भाई तहलका मचा रखा है हर जगह. वो सब कुछ बैन कर सकता है.''

इमेज कॉपीरइट TWITTER

@GabbbarSingh ने लिखा, ''अमरीका ने 2012 में हाफ़िज़ सईद पर 10 मिलियन डॉलर का इनाम रखा था. ओबामा के पूरे शासनकाल में हाफ़िज़ खुल्ला घूमा. ट्रंप के आने के हफ्ते के भीतर ही हाफ़िज़ को नज़रबंद किया गया है.''

इमेज कॉपीरइट TWITTER

सोशल मीडिया पर नज़रबंद किए जाने के बाद का हाफ़िज़ सईद का एक वीडियो वायरल हो रहा है. हालांकि ये वीडियो सही है या नहीं, इसकी पुष्टि नहीं की जा सकती है.

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

विनोद कुमार ने इसी वीडियो के हवाले से फेसबुक पर लिखा, ''अच्छे दिन. हाफिज सईद ने कहा, 'पीएम मोदी और ट्रंप ने मिलकर कराया गिरफ्तार.'

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

दीपक अग्रवाल लिखते हैं, ''हाफ़िज़ सईद का नजर का चश्मा टूट गया और इस तरह वो अपने ही घर पर नजरबंद हो गए...''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे