सोशलः'हाफ़िज़ सईद मानवता के सेवक हैं'

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption पाकिस्तान के कई शहरों में हाफ़िज़ सईद के समर्थन में प्रदर्शन हुए हैं.

पाकिस्तान ने मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड बताए जानेवाले जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफ़िज़ सईद को नज़रबंद कर दिया गया है.

हाफ़िज़ सईद की ओर से कहा गया है कि अमरीका के दबाव के तहत उन्हें नज़रबंद किया गया है.

लेकिन पाकिस्तान में हाफ़िज़ सईद के समर्थन में भी आवाज़े सुनाई दे रही हैं.

गुरुवार को #HafizSaeedServesHumanity पाकिस्तान में ट्रेंड्स में शामिल रहा है और लोगों ने उन्हें मानवता का सेवक बताया.

पढ़ें- पाकिस्तान ने हाफ़िज़ सईद को किया नज़रबंद

सोशल: हाफ़िज़ सईद को नज़रबंद किए जाने पर क्या बोले पाकिस्तानी?

नज़रिया: क्या कभी पाकिस्तान आतंकवाद पर लगाम लगा सकेगा?

उनकी संस्था फ़लाह-ए-इंसानियत के जनहित कार्यों की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

हाफ़िज़ सईद के समर्थन में पाकिस्तान के कई शहरों में प्रदर्शन भी हुए हैं.

एक तस्वीर में पाकिस्तान के हिंदू समुदाय के लोगों को सईद के लिए प्रदर्शन करते हुए दिखाया गया है.

प्रदर्शन में कुछ लोगों ने तख़्तियां पकड़ी हैं जिन पर लिखा है, "अमरीका की दख़ल मंज़ूर नहीं."

इमेज कॉपीरइट Twitter

सलार नाम के अकाउंट से लिखा गया, "उन्होंने हमें घटनास्थलों पर पहुँचना, खाना बनाना, लोगों के रहने का इंतज़ाम करना और मानवता के लिए दुआ करना सिखाया. "

वहीं हाफ़िज़ अतीक़ुर्रहमान ने लिखा, "दुर्भाग्यवश पाकिस्तान का कुछ लेना-देना नहीं है. हाफ़िज़ सईद को भारत और अमरीका के दबाव में नज़रबंद किया गया है."

वहीं सैय्यद इमरान नक़वी ने लिखा, "आज के दौर के आतंकवादी मानवता का ही बुर्क़ा पहनते हैं."

हाफ़िज़ सईद भारत और अमरीका की चरमपंथियों की सूची में शामिल हैं हालांकि संयुक्त राष्ट्र की चरमपंथियों की सूची में हाफ़िज़ सईद का नाम नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे