सोशल: 'मोदीजी ने स्कैम में ए से अरविंद क्यों नहीं बोला?'

यूपी चुनाव इमेज कॉपीरइट AP

चुनावी माहौल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम अखिलेश यादव शनिवार को स्कैम यानी घोटाले का नया अर्थ बताते नज़र आए.

मेरठ में रैली करते हुए पीएम मोदी ने घोटाले यानी SCAM (स्कैम) की स्पेलिंग की नई फुलफॉर्म बताई.

मोदी ने कहा, ''ये चुनाव बीजेपी की स्कैम के खिलाफ लड़ाई है. S से समाजवादी, C से कांग्रेस, A से अखिलेश और M से मायावती.'

इमेज कॉपीरइट AP

मोदी की इस नई फुलफॉर्म का जवाब देने में अखिलेश ने देर नहीं की.

ओरैया की चुनावी रैली में अखिलेश ने कहा, ''देश को स्कैम से बचाना है. ए और एम से जिनके नाम आते हैं, उनसे बचाना है.'

अखिलेश का इशारा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और मोदी की तरफ था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

दोनों नेताओं के इन बयानों की सोशल मीडिया पर भी चर्चा रही. पढ़िए किसने क्या कहा?

ऋषि ने ट्वीट किया, ''लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए मोदीजी ने स्कैम को परिभाषित किया. अब आप स्कैम शब्द बोलकर एक साथ लपेटे में ले सकते हो.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

गणेश तिवारी ने लिखा, ''शरद पवार और कलमाड़ी को सम्मान #SCAM करने के लिए दिए हो मोदी बाबू?''

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

आलोक पौराणिक लिखते हैं, ''टेढ़े वक्त में आरोप तक में नाम नहीं आता. SCAM पर मोदी ने S-समाजवादी, C-कांग्रेस, A-अखिलेश, M फोर मायावती कहा. M फोर मुलायम नहीं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

केजरीवाल और मोदी की तकरार पर तंज करते हुए बबलू यादव फेसबुक पर लिखते हैं, ''मोदी जी ने स्कैम में ए से अरविंद क्यों नहीं बोला. कितने शर्म की बात है.''

@YadavParashu ने ट्विटर पर स्कैम की नई परिभाषा बताई, ''अब तक का सबसे बड़ा स्कैम. S से संघ, C से कॉर्पोरेट, A से अमित शाह और M से मोदी.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे