लोकसभा में मोदी का बयान और राहुल का 'नीम हकीम ख़तरा-ए-जान'

मोदी इमेज कॉपीरइट AFP

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को लोकसभा में राहुल गांधी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे पर कई तंज किए.

मोदी ने कहा, ''आप ऑपरेशन कब करा सकते हैं? जब आपका पूरा शरीर स्वस्थ हो. अर्थव्यवस्था अच्छा कर रही थी. इसलिए सही वक्त पर नोटबंदी का फैसला लिया गया.''

मोदी के इस बयान पर राहुल गांधी समेत कई लोगों ने तंज कसा.

इमेज कॉपीरइट AFP

राहुल गांधी ने नोटबंदी पर मोदी के बयान को री-ट्वीट करते हुए लिखा, ''नीम हकीम खतरा-ए-जान''

इमेज कॉपीरइट Twitter

प्रेरणा ने ट्वीट किया, ''जब हम स्वस्थ हैं ही तो ऑपरेशन की ज़रूरत ही क्या है?''

इमेज कॉपीरइट Twitter

ट्वीटर यूजर सत्य साधक लिखते हैं, ''मेडिकल कॉलेज में डेड बॉडी पर ऑपरेशन सिखाते हैं. झोला छाप डॉक्टर के यहां ज़िंदा को मारकर डॉक्टर बनते हैं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

अभिषेक शुक्ला लिखते हैं, ''अर्थव्यवस्था अच्छी थी और आप उसे नीचे ले आए. गरीबों का खून चूस के आपकी बॉडी हेल्दी हुई.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

हालांकि राहुल गांधी के ट्वीट पर भी कई लोगों ने चुटकी लेने में कसर नहीं छोड़ी.

शंशाक सिंह लिखते हैं, ''भाई तू रहने दे. तेरे से नहीं हो पाएगा.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

@taz_brass ने लिखा, ''भाई कल के भूकंप से जनता उभर नहीं पाई है और आप आंधी लाने पर तुले हुए हो.''

इमेज कॉपीरइट AFP

आंधी को लेकर राहुल गांधी के दिए बयान पर भी लोगों ने जमकर निशाना साधा.

दरअसल, राहुल गांधी ने मेरठ की चुनावी रैली में कहा था, ''जैसी ही कांग्रेस-सपा ने हाथ मिलाया. यूपी में आंधी आ गई और यह हवा मोदीजी और मायावतीजी को हरा देगी.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

@kor_singh ने ट्वीट किया, ''आपके नेतृत्व में अब बस दाऊद से हाथ मिलाना बाकी है.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

महेश बाबू लिखते हैं, ''भूकंप आ जाएगा. तूफ़ान आ गया? आंधी आ गई. भाई तुम को राजनीति छोड़ मौसम विभाग में रहना चाहिए.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे