सोशल: 'शिवरात्रि का ये मतलब नहीं कि क्रिकेट भांग पीकर खेलें'

  • 24 फरवरी 2017
क्रिकेट इमेज कॉपीरइट Reuters

पुणे में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया पहली पारी में 105 रन बनाकर ऑल आउट हो गई.

टीम इंडिया के इतनी जल्दी पवेलियन लौटने की उम्मीद शायद ही किसी को हो.

कई पूर्व भारतीय ख़िलाड़ी टीम की जीत को लेकर कई भविष्यवाणी भी कर चुके थे.

हरभजन सिंह ने कहा था, ''भारत ऑस्ट्रेलिया को 4-0 से हराएगी. ऑस्ट्रेलिया की मौजूदा टीम भारत का दौरा करने वाली सबसे कमज़ोर टीम है.''

वीरेंद्र सहवाग और सौरव गांगुली भी टीम इंडिया के 3-0 या 4-0 से जीतने की बात कर चुके हैं. ऐसे में दूसरे दिन टीम के ऐसे प्रदर्शन की चर्चा सोशल मीडिया पर भी रही.

नंदीश ने ट्वीट किया, ''महज़ 11 रन के दौरान टीम इंडिया ने 7 विकेट खो दिए. क्या आपको पक्का यक़ीन है कि टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन टीम है.''

कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने टीम इंडिया के प्रदर्शन को शिवरात्रि से जोड़कर देखा.

प्रभात रंजन फ़ेसबुक पर लिखते हैं, ''भगवान भोले भंडारी, आज टीम इंडिया की भक्ति में क्या कमी रह गई कि पांच दिन के मैच में दूसरे ही दिन हार के कगार पर पहुंचा दिया.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

मनीष कुमार झा ने लिखा, ''महाशिवरात्रि के पर्व पर टीम इंडिया ने भगवान शिव को खुश करने के लिए तांडव किया. और पूरी टीम ऑलआउट हो गई.''

@Suraj_M_Sahani ने ट्वीट किया, ''शिवरात्रि का मतलब ये नहीं कि आप क्रिकेट भी भांग पीकर खेलने लगें.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

ट्विटर हैंडल @punk_hardik से लिखा गया, ''एक भारतीय बंदा सुबह से इंडिया ऑस्ट्रेलिया का मैच देख रहा था. मैच का स्कोर था 94/3. फिर वो कुछ पल के लिए पेशाब करने गया. तब तक 105 रन बनाकर टीम इंडिया आउट हो गई थी. अब वो खुद को दोषी मान रहा है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे