पहले बैन लगाया और अब अहमदीनेजाद ने ट्विटर पर खोला खाता

  • 7 मार्च 2017
महमूद अहमदीनेजाद इमेज कॉपीरइट Twitter @ahmadinejad1956

ईरान के पूर्व राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद ने ट्विटर पर अकाउंट खोला है.

हालांकि उनका ट्विटर पर आना खबर नहीं है बल्कि बड़ी बात ये है कि सालों पहले उन्हीं की सरकार ने ईरान में ट्विटर पर बैन लगाया गया था.

पूर्व राष्ट्रपति ने इस मौके पर एक वीडियो मैसेज ट्वीट भी किया, "मैं महमूद अहमदीनेजाद हूं. मुझे @ahmadinejad1956 पर फॉलो कीजिए. यह मैं हूं. अमन और मोहब्बत के साथ मेरी शुभकामनाएं."

साल 2009 में ईरान में राष्ट्रपति पद पर अहमदीनेजाद के फिर से चुने जाने के बाद उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन भड़क गए.

इसके बाद अहमदीनेजाद की सरकार ने ट्विटर पर बैन लगा दिया था. हालांकि ईरानियों ने इसका तोड़ निकाल लिया और प्राइवेसी सॉफ्टवेयर के जरिए ट्विटर का इस्तेमाल जारी रहा.

इमेज कॉपीरइट Twitter @_Cafe

अहमदीनेजाद के ट्विटर पर आने को लेकर लोगों की प्रतिक्रियाएं भी कम दिलचस्प नहीं हैं.

ट्विटर हैंडल @_Cafe से लिखा गया, "2009 में ट्विटर को बैन करने वाले अहमदीनेजाद ने अब प्रॉक्सी सॉफ्टवेयर के जरिए सेंसरशिप की अवहेलना की और लोगों से खुद को फॉलो करने की अपील कर रहे हैं. ये पागलों की दुनिया है."

ट्विटर हैंडल @parsaph1 से लिखा गया, अहमदीनेजाद लोगों को उस ट्विटर से दूर रखना चाहते थे जिसे उन्होंने प्रतिबंधित किया था. उन्हें एहसास हुआ कि ये कारगर नहीं था. इसलिए अब वे ट्विटर से जुड़ गए हैं.

आम लोगों पर ट्विटर बैन के बावजूद वे अकेले ऐसे ईरानी राजनेता नहीं हैं जिन्होंने ट्विटर पर अकाउंट खोला है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

यहां तक कि पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और महमूद अहमदीनेजाद के ट्विटर अकाउंट्स के बीच की समानताएं भी लोगों के नजरों से छुपी न रह सकीं.

@sahebsadeghi ने लिखा है, "अहमदीनेजाद ने अपना ट्विटर बायोडेटा लिखने में ओबामा की नकल की है."

लेकिन अहमदीनेजाद अकेले नहीं पड़े. उनके समर्थक बचाव में हाजिर थे.

@alimaz79 ने लिखा, "मुझे उन लोगों पर अफसोस होता है जो चीजों को केवल बाहर से देखते हैं. अहमदीनेजाद ने हमेशा ही ईरान के लिए काम किया है लेकिन कुछ लोगों को ये पसंद नहीं है."

पिछले हफ्ते अहमदीनेजाद ने अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप को एक खुला खत लिखा था.

कुछ ईरानी उनकी इन कोशिशों को मुख्यधारा की राजनीति में वापस लौटने की उनकी चाहत से जोड़कर भी देख रहे हैं. ईरान में इस साल मई में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे