सोशल: योगी आदित्यनाथ तो साढ़े 3 बजे ही बन गए थे यूपी के सीएम!

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उत्तर प्रदेश में प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में आई बीजेपी ने योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री चुन लिया.

शनिवार को सुबह से ही मीडिया में अलग-अलग सूत्रों से कई नामों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की रेस में शामिल बताया रहा था, लेकिन लखनऊ में विधायक दल की बैठक शुरू होने से ठीक पहले आदित्यनाथ का सबसे आगे हो गया.

फिर समाचार एजेंसी एएनआई ने 5 बजकर 33 मिनट पर ट्वीट कर आदित्यनाथ के यूपी का अगला मुख्यमंत्री होने की जानकारी दी.

लेकिन यहाँ गौर करने वाली मीडिया में योगी के नाम का हल्ला होने से करीब 2 घंटे पहले ही योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बता दिया गया था.

योगी आदित्यनाथ के विकीपीडिया पन्ने की पहली लाइन में लिखा गया था- महंत योगी आदित्यनाथ (अजय सिंह जन्म 5 जून 1972), उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं.

इमेज कॉपीरइट Wikipedia
Image caption इस पन्ने को शाम लगभग 3 बजकर 45 मिनट पर अपडेट किया गया था.

हालाँकि दो घंटे बाद ही विकीपीडिया पन्ने को एक बार फिर अपडेट किया गया और उनके मुख्यमंत्री होने की बात हटा दी गई.

योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने की खबर सोशल मीडिया में छाई हुई है और ट्विटर पर टॉप ट्रेंड में है. कई लोग आदित्यनाथ को सीएम बनाने के बीजेपी के फ़ैसले का स्वागत कर रहे हैं तो कई लोगों ने इस फ़ैसले की तीखी आलोचना की है.

विवादित बयानों वाले योगी आदित्यनाथ होंगे यूपी के मुख्यमंत्री

योगी के जिन बयानों पर हुआ है विवाद

'बहुत कठिन होगी डगर योगी सरकार की'

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

आदित्य मेनन ने ट्वीट किया, "फटा पोस्टर निकला नीरो! योगी आदित्यनाथ उन लोगों के लिए तोहफा हैं जिन्होंने सोचा था कि उनका वोट विकास के लिए है. बाबाजी भी यही, ठुल्लू भी यही."

योगी के जिन बयानों पर हुआ है विवाद

शीतल ने ट्वीट किया, "यूपी में प्रचंड जीत से पहले मोदी ने लोगों को हार्ट अटैक दिया और अब योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री घोषित कर मल्टिपल ऑर्गन फेलियर कर दिया है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे