मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर विवादित पोस्ट, तीन गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption भाजपा की ज़बरदस्त जीत के बाद योगी आदित्यनाथ यूपी के मुख्यमंत्री बने हैं.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर सोशल मीडिया पर विवादस्पद और आपत्तिजनक पोस्ट करने के अलग-अलग मामलों में बरेली, गाज़ीपुर और अमेठी में अल्पसंख्यक समुदाय के युवकों को गिरफ़्तार किया गया है.

अमेठी पुलिस ने बीबीसी से अनस सिद्दीक़ी नाम के युवक की गिरफ़्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आपत्तिजनक पोस्ट की थी.

अमेठी के पुलिस अधीक्षक अनीस अंसारी ने बीबीसी से कहा, "आपत्तिजनक पोस्ट के मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गिरफ़्तारी की है."

कार्टून: मोदी मोदी के बाद योगी योगी

क्या है योगी आदित्यनाथ की हिंदू युवा वाहिनी

इमेज कॉपीरइट Twitter

वहीं बरेली के फ़रीदपुर थानाक्षेत्र में सलमान अंसारी नाम के एक युवक को योगी आदित्यनाथ की कथित अश्लील तस्वीर व्हाट्सएप पर शेयर करने के मामले में गिरफ़्तार किया गया है.

फ़रीदपुर थाने के एसएचओ ने बीबीसी को बताया, "आकाश शुक्ल की शिकायत पर सलमान अंसारी के ख़िलाफ़ आईटी एक्ट की धारा 67ए और भारतीय दंड संहिता की धारा 295ए, 505(2) के तहत मामला दर्ज कर गिरफ़्तार करके जेल भेज दिया गया है."

पुलिस के मुताबिक सलमान अंसारी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फ़र्ज़ी अश्लील तस्वीरें व्हाट्सएप पर शेयर की थीं.

पढ़ें- योगी को इमेज मेकओवर चाहिए ?

जब योगी आदित्यनाथ को एबीवीपी का टिकट न मिला..

वहीं गाज़ीपुर में भी एक युवक को योगी आदित्यनाथ की आपत्तिजनक तस्वीर साझा करने के मामले में गिरफ़्तार किया गया है.

गाज़ीरपुर कोतवाली के एसएचओ सुरंद्र कुमार पांडे ने बीबीसी को बताया, "बजरंग दल से जुड़े उपेंद्र कुमार सिंह ने बादशाह अब्दुल रज़्ज़ाक नाम के युवक के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कराया था. अभियुक्त को सोमवार देर रात गिरफ़्तार करके जेल भेज दिया गया."

पुलिस के मुताबिक अब्दुल रज़्ज़ाक ने योगी आदित्यनाथ पर आपत्तिजनक पोस्ट सोशल मीडिया में साझा की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)