सोशल: 'गोमाता का श्राप कांग्रेस को सत्ता में नहीं आने देगा'

इंस्टाग्राम

केरल में यूथ कांग्रेस के नेता रिजिल मक्कुट्टी को बछड़ा काटने के बाद पार्टी ने सस्पेंड कर दिया है.

इस घटना के बाद राहुल गांधी ने भी ट्विटर पर सफाई देते हुए कहा, ''केरल में जो हुआ, वह एक बर्बर विचारहीन और पूरी तरह से अस्वीकार्य कदम है. कांग्रेस पार्टी और मैं इसकी निंदा करते हैं.''

इस घटना के बाद बीते कुछ दिनों से सरकार को घेरती नज़र आ रही कांग्रेस बैकफुट पर आ गई. इसी विषय पर हमने कहासुनी के ज़रिए लोगों की राय जानी.

केरल में बछड़ा काटकर क्या कांग्रेस ने अपने पैर पर कुल्हाड़ी मार ली है?

इमेज कॉपीरइट Instagram

इस सवाल पर इंस्टाग्राम पर भी बीबीसी हिंदी के पाठकों ने अपनी राय रखी. हम यहां कुछ चुनिंदा कमेंट्स पेश कर रहे हैं.

रविकांत ने लिखा, ''कांग्रेस ने ऐसा करके अच्छा ही किया. अब ये कभी सत्ता में वापस नहीं आएंगे. गोमाता की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी. गोमाता का श्राप कांग्रेस को सत्ता में नहीं आने देगा.''

@gondajs कहते हैं, ''कांग्रेसी झल्लाए हुए हैं. इस तरह की हरकत इस बात का सबूत है.''

धर्मवीर ने कहा, ''कांग्रेस पार्टी अब देश में आखिरी स्टेज पर है.''

प्रकाश ने लिखा, ''कांग्रेस रसातल में जाने की तैयारी कर रही है.''

नेहा ठाकुर लिखती हैं, ''जिस देश में गाय को माता माना जाता है. वहीं इसी देश की सबसे पुरानी पार्टी ने ऐसी हरकत करके ये संदेश दिया है कि उनके दिन पूरे हो गए. शर्मनाक.''

अनुज केसरी ने लिखा, 'कांग्रेस आंख बंद करके सरकार के काम का विरोध कर रही है और बिना किसी विश्लेषण के. कांग्रेस की ओर से जो हरकत की गई, वो अक्षम्य है.''

कृष्ण कुमार ने लिखा, ''कांग्रेस ने गाय नहीं, अपनी जड़ें काटी हैं. अब कांग्रेस पार्टी की सारी संभावनाएं खत्म हो गई हैं.''

दीपक कहते हैं, ''इस बछड़े की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी और जानी भी नहीं चाहिए. ये हिंदुस्तान के लोगों के हृदय को चीरने वाली घटना है. विरोध जताने के लिए ऐसी हरकत....''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)