सोशल- 'अगर कोहली इंडिया को नहीं चाहिए, तो पाकिस्तान को दे दो'

अनिल कुंबले इमेज कॉपीरइट AFP

अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के कोच के पद से इस्तीफा दे दिया है.

इस्तीफे के साथ ही कुंबले ने कप्तान कोहली से अपने मतभेदों को लेकर भी अपना पक्ष रखा है.

कुंबले ने मंगलवार रात को ट्वीट किया,

  • ''मुझे बीसीसीआई की तरफ़ से बताया गया कि कप्तान को मेरे 'स्टाइल' और मेरे कोच बने रहने को लेकर कुछ आपत्तियां हैं.
  • मैं चौंक गया क्योंकि मैंने हमेशा कप्तान और कोच की भूमिकाओं की सीमा की क़द्र की है.
  • बीसीसीआई ने कप्तान और मेरे बीच की ग़लतफ़हमियां दूर करने की कोशिश की, लेकिन यह साफ़ था कि यह साझेदारी अस्थिर थी, इसलिए मुझे लगा कि पद छोड़ना ही मेरे लिए बेहतर है.''
इमेज कॉपीरइट PA

कुंबले के इस्तीफे के बाद टीम इंडिया लंदन से बिना मुख्य कोच के वेस्टइंडीज़ रवाना हो गई है.

भारत के लिए ओलंपिक मेडल जीत चुके अभिनव बिंद्रा कहते हैं- 'मेरे सबसे बड़े कोच उवे थे. मैं उनसे नफरत करता था. लेकिन उनके साथ 20 साल तक रहा. वो मुझसे हमेशा कुछ ऐसा बोलते जिसे मैं कभी सुनना नहीं चाहता था.'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कुंबले-कोहली के मतभेद, फैन्स में उदासी

ज़ाहिर है कि विराट कोहली की तरह कुंबले के भी भारत में अच्छे खासे क्रिकेट फैन्स हैं. ऐसे में दोनों दिग्गजों के फैन्स उदास हुए हैं.

गजोधर लिखते हैं, ''इसके साथ ही अचानक विराट कोहली ने अपने लाखों फैन्स खो दिए.''

अमितेष कुमार ने लिखा, ''कप्तान के रूप में अनिल कुंबले का छोटा दौर भी बेहद प्रभावी था, और अब लगता है कोच का यह प्रभावी दौर छोटा रहने वाला है. दुखद है.''

मंजीत सिंह कहते हैं, ''कल के दो सुपरस्टार लालकृष्ण आडवाणी और अनिल कुंबले आज के दो सुपरस्टार नरेंद्र मोदी और विराट कोहली के अहम, भय और ज़िद की भेंट चढ़ गए.''

मयंती ने ट्वीट किया, ''कुंबले सर, विराट कोहली को माफ कर देना. वो काफी युवा कप्तान हैं. शायद यही उनसे संभाला नहीं जा रहा है.''

@TrollKejri हैंडल से लिखा गया, ''कोहली का समर्थन वही कर रहे हैं जो कभी राहुल गांधी को पीएम बनाना चाहते थे. तर्क था कि वो कूल हैं इसलिए पीएम बन सकते हैं.''

रजनी पाटिल कहती हैं, ''यही फर्क है कोहली और धोनी के बीच. टीम इंडिया से ऊपर कोई नहीं है.''

अभिषेक कहते हैं- सर तुस्सी जा रहे हो. तुस्सी न जाओ.

फ़ेसबुक पर अनऑफिशियल सुब्रमण्यम स्वामी नाम के पैरोडी पेज से कुंबले-कोहली मतभेद से संबंधित एक स्क्रीनशॉट शेयर किया गया.

इमेज कॉपीरइट Twitter

इस स्क्रीनशॉट में हर्ष सिद्धू एक ट्वीट में कहते नज़र आते हैं, ''प्यारे कोहली, तुमने आज सारा सम्मान खो दिया. अब हम कभी तुम्हारे लिए चियर नहीं करेंगे. प्लीज पाकिस्तान जाओ या रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर में खेलो.''

इस ट्वीट का जवाब देते हुए बिलाल ताहिर ने लिखा, ''हमें कोहली जैसा बल्लेबाज पसंद है. अगर भारतीयों को कोहली की ज़रूरत नहीं, तो हम उनका स्वागत करेंगे.''

हालांकि इन दोनों ट्विटर यूजर्स ने अपना ये ट्वीट बाद में डिलीट कर दिया.

कुंबले ने स्वीकारी कोहली से मतभेद की बात

'अब सचिन, गांगुली और लक्ष्मण के कंधों पर टीम का भविष्य'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)