सोशल: सवालों में उलझे सोशल मीडिया पर जीएसटी के चुटकुले

जीएसटी, नरेंद्र मोदी, बीजेपी, टैक्स, सोशल मीडिया, चुटकुले इमेज कॉपीरइट Twitter

भारत में जीएसटी लागू तो हो गया है लेकिन लोग अब भी कंफ्यूज्ड हैं. किसी को ठीक से समझ नहीं आ रहा है कि आगे क्या होने वाला है. लेकिन हालात चाहे जैसे भी हों, हंसना-हंसाना तो नहीं रुक सकता! जीएसटी को लेकर भी फ़ेसबुक और ट्विटर पर चुटकुलों की बौछार होती रही.

GST लागूः क्या हुआ सस्ता, क्या महंगा

जब मोदी ने कहा था - GST कभी सफल नहीं होगा

ऐसे ही कुछ मजेदार मीम्स और चुटकुले हम आपके लिए छांटकर लाए हैं. अंकित रॉय ने लिखा,''देखो...देखो...वो आ गया.'' नागेश मिश्रा जीएसटी लागू होने की ख़ुशी/ग़म में शायराना हो गए. उन्होंने लिखा,''मेरी रगों के बहते लहू में बेधड़क सप्लाई हो जाया करो, आधी रात चढ़ते ही जीएसटी की तरह अप्लाई हो जाया करो!''

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption जीएसटी का सदमा!

अफ़वाह नाम के फ़ेसबुक पेज पर लिखा गया,''जीएसटी का साइड इफ़ेक्ट, सल्लू भाई सड़क पर आ गए.''

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption सल्लू भाई नहीं बचे तो हम किस खेत की मूली हैं!

कीर्तीश भट्ट ने लिखा,''विपक्ष और व्यापारियों का कहना है जीएसटी ठीक है, बस सरकार को इसके लिए थोड़ा टाइम देना चाहिए था, करीब सात आठ सौ साल.''

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption इतना टाइम तो देना ही चाहिए था!

पीयूष जैन ने ट्वीट किया,''मेरे पास जीएसटी पर एक जोक है लेकिन सुनने के लिए 28% टैक्स देना होगा.''

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption मोदी जी, बच्चों को तो बख्श दीजिए!

अब बच्चों को मेहमानों के सामने पोयम नहीं, जीएसटी समझाना होगा.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption ये कहां का इंसाफ है?

अरुण जेटली दूसरी ही चिंता में उलझे हैं.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption अब तक तो कन्विन्स हो ही गए होंगे?

आज तो कन्विन्स करके ही मानूंगा.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption सच्चा दोस्त है तो जीएसटी समझा दे.

सीए की शरण में जाइए, कृपा आएगी.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption इतने तेज होते तो SRCC में ऐडमिशन न मिल जाता?

यू आर अ गुड क्वेश्चन, बट योर क्वेश्चन हर्ट मी!

Image caption बड़े आए जीएसटी समझने वाले!

आ गया ना समझ में? चलिए, अब दूसरों को भी समझा दीजिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे