सोशल- 'मोदी फ़ायदा न करें लेकिन नुकसान भी नहीं करेंगे'

मतदाता इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सांकेतिक तस्वीर

सरकार पर भरोसा करने के मामले में भारतीय पहले नंबर पर हैं.

आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन (ओईसीडी) की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक, 73 फ़ीसदी भारतीय जनता देश की सरकार पर यक़ीन करती है.

इस रिपोर्ट की मानें तो सरकार पर भरोसा करने के मामले में भारतीय अमरीका, रूस, ब्रिटेन, जापान जैसे देशों की जनता से भी आगे हैं.

ऐसे में हमने कहासुनी के ज़रिए बीबीसी हिंदी के पाठकों से सवाल किया,

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस सवाल पर हमें ढेरों प्रतिक्रियाएं मिलीं. हम आपको चुनिंदा कमेंट्स पढ़वा रहे हैं.

जानिए सरकार पर भरोसा करने के मामले में क्या बोले लोग....

मनीषा शर्मा लिखती हैं, ''अंधों में काना राजा. मजबूरी है क्या करें. इंतज़ार कर रहे हैं किसी आंख वाले का.''

मनदीप सिंह गिल ने लिखा, ''हम सरकार के साथ हैं. क्योंकि ये सरकार करप्शन से मुक्त और तेज़ फ़ैसले लेने वाली सरकार है.''

सुरेंद्र सिंह कहते हैं, ''अगर 73 फ़ीसदी है तो इसका मतलब है कि भारत में मूर्खों की संख्या बढ़ रही है.''

15 लाख रुपये के चुनावी वादे पर तंज कसते हुए सईद अमीर अब्बास रिज़वी ने लिखा- मेरे करण अर्जुन आएंगे, मेरे पंद्रह लाख लाएंगे.

बलदेव कुंद्रा ने फ़ेसबुक पर लिखा, ''यहां ऐसे लोग हैं जिनको मोदी पर यकीन नहीं है. वो बेवजह मोदी से नफरत करते हैं. अगर मैं अपनी बात करूं तो मुझे मोदी पसंद हैं. वो अच्छा काम करते हुए देश को रिजल्ट दे रहे हैं.''

कपिल शर्मा ने लिखा, ''सरकार पर भरोसा है. क्योंकि मोदी फ़ायदा न करें लेकिन शेर का बच्चा नुकसान नहीं करेगा.''

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सांकेतिक तस्वीर

ये हैं OICD की रिपोर्ट की खास बातें

62 फ़ीसदी लोगों के साथ दूसरे नंबर पर कनाडा की सरकार है और तीसरे नंबर पर 58 फ़ीसदी के साथ रूस और तुर्की तीसरे पायदान पर.

दुनिया की सबसे मज़बूत अर्थव्यवस्था अमरीका की केवल 30 फ़ीसदी जनता को वहां की सरकार में विश्वास है.

ब्रेक्सिट के पक्ष में वोट देने वाली ब्रिटेन की 41 फ़ीसदी जनता को ही वहां की सरकार पर विश्वास है.

रिपोर्ट के मुताबिक, 2016 के आंकड़े बताते हैं कि ग्रीस की केवल 13 फ़ीसदी जनता को अपनी राष्ट्रीय सरकार में विश्वास है.

भारत की 73 फ़ीसदी जनता को है सरकार पर भरोसा: ओईसीडी रिपोर्ट

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)