सोशल: खाड़ी देशों के प्रतिबंध के 50 दिन पूरे, क्यों खुश हैं क़तरवासी?

क़तर एयरलाइन्स इमेज कॉपीरइट AFP

क़तर पर अरब देशों के प्रतिबंध के 50 दिन पूरे हो गए हैं.

5 जून को सऊदी अरब, बहरीन, मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने क़तर पर चरमपंथी संगठनों को फ़ंड मुहैया कराने का आरोप लगाते हुए संबंध तोड़ लिए थे.

तब से कई बार कई तरफ से इन टूटे संबंधों तो जोड़ने की कोशिशें हुईं लेकिन हालात जस के तस हैं. हालांकि ये पहली बार नहीं है कि क़तर के पड़ोसी देशों ने उसकी विदेश नीति को लेकर नाखुशी ज़ाहिर की है.

अरब देशों के प्रतिबंध के 50 दिन पूरे होने की सोशल मीडिया पर भी चर्चा है. क़तर में #FiftyDaysSinceTheSiege टॉप ट्रेंड है.

क़तर के लोग खाड़ी देशों के प्रतिबंध को लेकर सकरात्मक और एकजुट होने पर खुशी ज़ाहिर कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

पढ़िए, 50 दिन पूरे होने पर क्या बोले क़तर के लोग?

बिन जासिम लिखते हैं, ''कतर के लोगों ने अपने मुल्क के लिए वफादारी और प्यार दिखाते हुए कमाल की मिसाल कायम की है.''

@WoLFAlkuwari हैंडल से लिखा गया- नफरत करने वाले हमसे चिढ़ते रहेंगे, क्योंकि वो हमारी तरह नहीं हो सकते. हम कभी नहीं करेंगे.''

सारा लिखती हैं, ''प्रतिबंध के 50 दिन पूरे हो गए हैं और क़तर अब भी मजबूती से खड़ा है.''

@iineeyy की ओर से लिखा गया, ''हम अपने मुल्क की ख़ातिर किसी भी चीज से निपट सकते हैं. क्योंकि ऐसे देश जिसका हम बचाव नहीं कर सकते, हमें वहां रहने का कोई हक नहीं है.''

नूर का कहना है, ''हमें फ़ख़्र है कि हम क़तर से हैं और जो लोग भी क़तर के साथ खड़े हैं, हमें उनपर गर्व है.''

@alhajri1101 लिखते हैं, ''क़तर के इतिहास में पहली बार हमने लगातार 50 दिन तक अपना नेशनल डे मनाया.''

क़तर 'संकट' से पूर्वांचल के लोग परेशान

क़तर पर क्यों लग रहे चरमपंथ को बढ़ावा देने के आरोप?

क़तर पर क्यों लग रहे चरमपंथ को बढ़ावा देने के आरोप?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)