सोशल: मनोहर लाल खट्टर पर लोगों का ग़ुस्सा, इस्तीफ़े की मांग

मनोहर लाल खट्टर, हरियाणा, बीजेपी, गुरमीत राम रहीम सिंह, डेरा सच्चा सौदा इमेज कॉपीरइट Getty Images

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को बलात्कार का दोषी करार दिए जाने के बाद माहौल तनावपूर्ण हैं. हरियाणा और आस-पास के इलाकों में हिंसा और डर का साया है.

फ़ैसला सुनाए जाने के बाद पंचकुला और सिरसा में हुई हिंसा में 31 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. इन सबके बीच लोग पूछ रहे हैं कि हिंसा की आशंका के बावजूद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इसे रोकने के लिए माकूल इंतजाम क्यों नहीं किया?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सोशल मीडिया पर खट्टर ट्रेंड कर रहा है और उनसे इस्तीफ़े की मांग की जा रही है. जगदंब ने ट्वीट किया,''खट्टर से ना हो पाएगा.'' मयंक उप्रेती पूछते हैं,''मिस्टर खट्टर, ये तो बता दो कि मंडे ऑफ़िस जाना है या फिर तोड़-फोड़ करवाने की प्लानिंग है?''

इमेज कॉपीरइट Twitter

सचिन सिंगला ने फ़ेसबुक पर लिखा,''खट्टर साहब हरियाणा के सीएम बने रहेंगे. ऐसे छोटे-मोटे हादसे तो होते रहते हैं. केंद्र से उनको कुछ बड़े की उम्मीद है.'' राजेश कपिल लिखते हैं,''साफ़ लग रहा है, अब या खट्टर नहीं या 2019 में मोदी नहीं.''

हरियाणाः मरने वाले लोग आखिर हैं कौन?

इमेज कॉपीरइट Facebook

शशिवेंद्र दुबे ने फ़ेसबुक पोस्ट में लिखा,''खट्टर की काबिलियत पर मुझे शक पहले से था, अब विश्वास हो गया है. बेहद दुःखद और शर्मनाक.''नीरज तिवारी कहते हैं,''खट्टर हुए खटारा, अब खुलेगा मुआवजों का पिटारा. शर्मनाक.''

गुरमीत समर्थकों ने जलाई गाड़ियां, चलाए पत्थर

इमेज कॉपीरइट Facebook

दनिश ख़ान ने कहा,''खट्टर जी, जिनसे ट्विटर पर अपील कर रहे हो उनके इलाके में पहले इंटनेट सर्विस तो वापस चालू करवा दो!.'' एक अन्य ट्विटर यूज़र ने लिखा,''खट्टर साहब, न आपसे हो पाया है. न हो पाएगा.''

बाबा पर बवाल, 31 मौतों का ज़िम्मेदार कौन?

इमेज कॉपीरइट Twitter

फिलहाल हरियाणा के सिरसा में किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई है. इलाक़े की बैरिकेडिंग कर दी है और लोगों को घरों से बाहर न निकलने के लिए कहा जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे