सोशल: भक्तों ने लगाई गुहार, ये काम करो मोदी सरकार...

पीएम मोदी इमेज कॉपीरइट AFP

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छ भारत अभियान को लेकर अक्सर संदेश देते नज़र आते हैं.

मोदी सोशल मीडिया पर इस बाबत अक्सर लिखते भी रहते हैं. पीएम मोदी ने ट्विटर पर 'स्वच्छता ही सेवा' हैशटैग के साथ कुछ वीडियो शेयर की.

इन वीडियोज़ को शेयर करते हुए मोदी लिखते हैं, ''आप भारत को साफ करने के लिए क्या कर रहे हैं, नमो ऐप पर तस्वीरें भेजकर मुझे बताइए.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

अगले ट्वीट में मोदी लिखते हैं, ''मैं नागरिकों से अपील करता हूं कि 'स्वच्छता ही सेवा' के लिए वक्त निकालिए और स्वच्छ भारत बनाने की तरफ काम कीजिए. बापू को सबसे अच्छी श्रद्धांजलि यही होगी.''

पीएम मोदी के ट्वीट्स में 'स्वच्छता ही सेवा' का ज़िक्र इसलिए है, क्योंकि ये 15 सितंबर से दो अक्टूबर तक चलने वाले सफाई अभियान का नाम है.

मोदी की स्वच्छता पर क्या बोले लोग?

मोदी के अगर स्वच्छता पर किए इन दो ट्वीट्स की बात करें तो इसमें लोगों की मिली-जुली प्रतिक्रिया है.

लेकिन बाबाओं के अच्छे दिन से बुरे दिन वाले इस दौर में उनके भक्तों की पीएम मोदी से कुछ गुहार हैं.

इन ट्वीट्स में रिप्लाई करने वालों में रामपाल, आसाराम के भक्त शामिल हैं. जानिए बाबाओं के भक्त क्या लिखते हैं?

जेल में बंद रामपाल की वेबसाइट का लिंक और वॉलपेपर ट्वीट करते हुए पार्थ लिखते हैं, ''सर, भारत को भ्रष्टाचार, दहेजप्रथा, रिश्वतखोरी से भी सफाई की ज़रूरत है. इसके लिए रामपाल की वेबसाइट पर आएं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

निरंजन दास लिखते हैं, ''संत रामपाल निर्दोष हैं. जेल से रिहा करो.''

रिया नाम की यूजर कई बाबाओं की तस्वीरों को लगाकर लिखती हैं, ''सर, निर्दोष संत आसाराम बापू को बोगस केस में क्यों सताया जा रहा है.''

विमल मिश्रा ने लिखा, ''राम पाल के सानिध्य में भारत फिर से विश्वगुरु बनेगा. मीडिया चाहे जनता के सामने फिर कितनी ही गलत छवि बना ले.''

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि ऐसे भी लोग हैं, जिन्होंने मोदी की सफाई की अपील का स्वागत किया.

अनीष लिखते हैं, ''मोदी 17 सितंबर को अपने जन्मदिन पर देश की जनता से कुछ मांगने वाले हैं. घबराइए मत, वो सिर्फ अपने-अपने क्षेत्र में गंदगी को मुक्त करते स्वच्छ भारत बनाने के लिए कहेंगे.''

शेखर यादव ने लिखा, ''हम सब मिलकर यह संकल्प लें. अपने देश को स्वच्छ और स्वस्थ बनाए.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)