सोशल: 'आख़िर आरुषि तलवार को किसने मारा?'

आरुषि केस इमेज कॉपीरइट Other

आरुषि हत्याकांड मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने तलवार दंपति को बरी कर दिया है.

साल 2008 में तलवार परिवार के नोएडा स्थित घर में आरुषि तलवार और उनके नौकर हेमराज की लाश बरामद हुई थी.

इस मामले में सीबीआई जांच के बाद तलवार दंपति को निचली अदालत ने दोषी ठहराया था लेकिन हाई कोर्ट ने फैसला पलट दिया.

आरुषि केस: कब-कब क्या हुआ

आरुषि हत्याकांड में तलवार दंपति बरी

आरुषि केसः वो 7 बातें जहाँ सीबीआई 'चूक गई'

इमेज कॉपीरइट Twitter

हाई कोर्ट के फ़ैसले के बाद सोशल मीडिया पर #AarushiVerdict और #Talwars टॉप ट्रेंड रहे.

बहुत से लोगों ने तलवार दंपति के रिहा होने पर खुशी जाहिर की तो बहुत से लोगों ने सवाल भी उठाया कि आखिर आरुषि की हत्या किसने की?

मनोज कुमार साहू ने ट्विटर पर लिखा, "इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तलवार दंपति को सभी आरोपों से बरी कर दिया लेकिन इस सवाल का जवाब अभी भी नहीं मिला, आरुषि को किसने मारा?"

इमेज कॉपीरइट Twitter

@Neetu_Says नाम के हैंडल ने भी लिखा, "तलवार दंपति ने अपनी बेटी खो दी, उनकी ज़िंदगी के पांच साल ख़राब हो गए और अब भी पता नहीं चला आरुषि को किसने मारा?"

@aavishhkar नाम के हैंडल से आविष्कार गवांडे ने ट्वीट किा है, "डियर मेघना गुलज़ार, अब आप तलवार फ़िल्म का सीक्वेल बना लीजिए. उसका टाइटल होगा- नो वन किल्ड आरुषि."

इमेज कॉपीरइट Twitter

ट्विटर पर चंदना रॉय लिखती हैं, "आरुषि मामले में जो फ़ैसला आया उससे खुश हूं. मुझे हमेशा लगा कि तलवार दंपति ग़लत और अनफ़ेयर ट्रायल का शिकार हुए हैं. फ़ैसला फिर से दबे हुए सवाल खड़े कर रहा है."

इमेज कॉपीरइट Twitter

@bina_cancerian नाम के हैंडल ने लिखा है, "ऐसे माता-पिता अपनी इकलौती संतान को नहीं मारते. उनका रिहा होने के हकदार हैं."

इमेज कॉपीरइट Twitter

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे