विस्फोट में छह अमरीकी सैनिक हताहत

अमरीका की सेना का कहना है कि अफ़ग़ानिस्तान में विद्रोही गतिविधियों के चलते दो अलग अलग धमाकों में उसके छह सैनिक मारे गए हैं.

Image caption अफ़ग़ानिस्तान में नैटो सेनाओं को काफ़ी नुकसान झेलना पड़ रहा है.

उन्होंने यह भी कहा कि उनके चार सैनिक उत्तरी शहर कुंद्रुज़ में मारे गए जबकि दो अन्य सैनिक दक्षिण में मारे गए हैं. अमरीकी सेना ने इस बारे में इससे ज़्यादा कुछ नहीं बताया.

नैटो का एक सैनिक देश के पूर्वी हिस्से में हुई लड़ाई के दौरान मारा गया. इस सैनिक की नागरिकता के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है.

इसके अलावा दक्षिण अफ़ग़ानिस्तान के कंधार में नैटो के एक ठिकाने के पास हुए एक आत्मघाती हमले में कम से कम दो लोग मारे गए हैं.

एक अन्य घटना में कनाडा की सेना ने रविवार को कहा कि पिछले महीने घायल हुए कनाडाई सैनिक की मौत हो गई है.

इन दिनों नैटो सेनाओं को काफ़ी नुकसान झेलना पड़ रहा है.

कम से कम पाँच ब्रिटिश सैनिक भी मारे गए हैं. शनिवार को पूर्वी प्रांत पक्तिका में एक सैनिक चौकी पर हुए हमले में अमरीका के दो सैनिक मारे गए.

ताज़ा विद्रोही हमलों की वजह तालेबान के गढ़ दक्षिण हेलमंद प्रांत में तालेबानियों के ख़िलाफ़ अमरीका और ब्रिटेन की सेना का विशेष अभियान है.

अमरीकी काफ़िला

कुंद्रुज़ में सड़क पर हुए एक विस्फोट में चार अमरीकी सैनिक मारे गए.

अमरीका की सेना का कहना है कि वे अफ़ग़ान सुरक्षा बलों को प्रशिक्षण दे रहे थे. इस बारे में इससे ज़्यादा कुछ नहीं बताया गया.

इससे पहले कुंद्रुज़ के स्थानीय अधिकारियों ने कहा था कि अमरीकी सैनिकों के काफ़िले को हमले का निशाना बनाया गया था.

अमरीकी सेना ने कहा कि इसके अलावा एक और मामले में देश के दक्षिण में दो अन्य अमरीकी सैनिक मारे गए हैं.

कुछ रिपोर्ट संकेत देती हैं कि यह हमला कंधार प्रांत के उत्तर में स्थित ज़ाबुल में हुआ.

मारे गए सभी छह सैनिक नैटो के नेतृ्त्व वाले अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा बलों (इसाफ़) के साथ काम कर रहे थे.

इसाफ़ का कहना है कि उनका एक सैनिक पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान में लड़ाई करते वक्त घायल होने की वजह से मारा गया है.

इसाफ़ के बयान के अनुसार, यह बहुत दुख और दर्द की बात है कि हमें एक और सैनिक की विद्रोहियों के साथ हुए युद्ध में त्रासद मृत्यु होने के बारे में पता लगा है. इससे ज़्यादा जानकारी नहीं मिली है.

अधिकारियों का कहना है कि इससे पहले कंधार में हुए एक आत्मघाती हमले में कम से कम दो लोग मारे गए और अनेक घायल हो गए.

हमलावरों ने क्षेत्र में नैटो के प्रमुख ठिकाने कंधार एयरफ़ील्ड के निकट एक मिनी वैन को आग लगा दी. इस हमले में किसी विदेशी सैनिक के घायल होने की सूचना नहीं मिली है.

तालेबान ने कुंद्रुज़ और कंधार के हमलों की ज़िम्मेदारी ली है.

संबंधित समाचार