'देरी भारत की वजह से हुई'

रहमान मलिक
Image caption रहमान मलिक का कहना है कि पाकिस्तान सरकार मुंबई हमलों के मामले में गंभीर है

पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री रहमान मलिक का कहना है कि मुंबई हमले के मामले में कार्रवाई करने में देरी भारत की वजह से हुई.

पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने बताया कि पाकिस्तान सरकार की ओर से इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग को अब तक उठाए गए क़दमों के बारे में एक दस्तावेज़ सौंपा जा रहा है.

उनका कहना था कि पाकिस्तान ने इस मामले में गंभीरता से कार्रवाई की है और नौ से पाँच लोगों के ख़िलाफ़ मुक़दमा चल रहा है.

रहमान मलिक ने स्पष्ट किया कि गिरफ़्तार सभी लोगों पर पाकिस्तान के क़ानून के मुताबिक मामला चलाया जाएगा.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान मुंबई हमले की साज़िश रचने वालों को न्याय के कठघरे में लाने के लिए प्रतिबद्ध है और भारत को जाँच में मदद करनी चाहिए.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में पाकिस्तान उच्च न्यायालय के आदेश पर हाफ़िज़ सईद की नज़रबंदी ख़त्म कर दी गई थी.

सईद की रिहाई पर भारत ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी. भारत ने कहा था कि इस फ़ैसले से आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ने की पाकिस्तान की गंभीरता पर संदेह पैदा होता है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने जमात को लश्कर का सहयोगी संगठन घोषित किया था. इसके बाद पाकिस्तान सरकार ने पिछले साल दिसंबर में हाफ़िज़ सईद को नज़रबंद कर दिया था.

भारत ने मुंबई हमले के लिए लश्करे तैबा को ज़िम्मेदार ठहराया है. इसमें 180 से अधिक लोग मारे गए थे.

संबंधित समाचार