चुनाव अभियान के दौरान हमला

अब्दुल्ला अब्दुल्ला
Image caption अब्दुल्ला अब्दुल्ला हमले के समय वाहन में नहीं थे

अफ़ग़ानिस्तान में अधिकारियों का कहना है कि राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार अब्दुल्ला अब्दुल्ला के अभियान मैनेजर इस्माइल के वाहन पर हमला हुआ है और वे बुरी तरह घायल हो गए हैं.

अधिकारियों के मुताबिक उनकी कार पर लघमान प्रांत में गोलियाँ चलाई गईं. हमले में उनके ड्राइवर की मौत हो गई.

लघमान प्रांत के उप गवर्नर ने बीबीसी को बताया कि इस्माइल को सुरक्षित जगह पर ले जाया गया है. हमले के समय अब्दुल्ला अब्दुल्ला वाहन में नहीं थे. वे अफ़ग़ानिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री हैं और राष्ट्रपति पद के प्रबल दावेदार हैं.

इससे पहले रविवार को राष्ट्रपति हामिद करज़ई के सहयोगी और उप राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार मोहम्मद क़ासिम फ़हीम के काफ़िले पर भी हमला किया गया था. किसी भी गुट ने हमलों की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

सुरक्षागार्डों पर हमला

इस बीच हेलमंद प्रांत में एक धमाके में आठ अफ़ग़ान सुरक्षागार्ड मारे गए. ये लोग हेलमंद प्रांत के गेरेशक कस्बे में जा रहे थे.

मारे गए सभी अफ़ग़ान लोग एक ऐसी कंपनी के लिए काम करते थे जो हेलमंद में गठबंधन सेना के काफ़िलों को सुरक्षा मुहैया करवाती है.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि ये हमला दर्शाता है कि तालेबान में ऐसे समय में भी हमला करने की हिम्मत है जब राष्ट्रपति चुनाव के कारण अतिरिक्त ब्रितानी और अमरीकी सैनिक तैनात हैं.

अफ़ग़ानिस्तान में राष्ट्रपति और प्रांतीय चुनाव से पहले हिंसा में तेज़ी आई है.

सोमवार को अफ़ग़ान सरकार ने कहा था कि बदघिस प्रांत में तालेबान के साथ संघर्षविराम हो गया है. लेकिन तालेबान के प्रवक्ता ने इस बात से इनकार किया है.

एएफ़पी ने प्रवक्ता के हवाले से लिखा है, "हम जिहाद जारी रखेंगे और संघर्षविराम की बात नहीं मानेंगे."

संबंधित समाचार