चीन का अतिक्रमण से इनकार

चीनी सैनिक
Image caption पिछले कुछ दिनों में चीनी सेना के भारत सीमा के अतिक्रमण की कई ख़बरें आईं हैं

चीनी विदेश मंत्रालय ने भारतीय सीमा के अतिक्रमण की ख़बरों से इनकार किया है.

चीनी विदेश मंत्रालय ने मीडिया से कहा कि ये ख़बरें बेबुनियाद हैं.

इसके पहले ख़बरें आईं थीं कि चीनी सेना भारतीय सीमा का अतिक्रमण करते हुए लद्दाख क्षेत्र में क़रीब डेढ़ किलोमीटर अंदर तक घुस आई थीं.

भारतीय वायु क्षेत्र में पिछले दिनों चीनी हेलीकॉप्टरों की घुसपैठ की भी ख़बर चर्चा में थीं.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने भारत के आधिकारिक सूत्रों के हवाले से ख़बर में कहा है कि चीनी सैनिक लद्दाख क्षेत्र में माउंट ग्या के पास भारतीय क्षेत्र में क़रीब डेढ़ किलोमीटर अंदर तक घुस आए थे.

चीनी सैनिकों ने यहां पत्थरों और चट्टानों को लाल रंग से रंगकर चीनी भाषा में चीन लिखकर इस क्षेत्र को अपना बताने की कोशिश की.

माउंट ग्या भारत और चीन के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा है.

सेना के बीच फेयर प्रिंसेज आफ स्नो के तौर पर जाना जाने वाला माउंट ग्या 22420 फीट की ऊंचाई पर है.

ये जम्मू कश्मीर में लद्दाख, हिमाचल प्रदेश में स्पीति और तिब्बत को जोड़ने वाले स्थान पर स्थित है.

इसे ब्रिटिश काल में चिन्हित किया गया था और दोनों ही देशों ने इसे अंतरराष्ट्रीय सीमा के तौर पर मान्यता दी है.

इस अतिक्रमण की जानकारी सीमा पर गश्त करने वाले दल को 31 जुलाई को मिली.

इससे पहले जून महीने में चीनी हेलीकॉप्टरों ने लेह में वास्तविक नियंत्रण रेखा के आसपास के इलाक़े में भारतीय वायु क्षेत्र में अनधिकृत प्रवेश किया था.

संबंधित समाचार