सुरक्षा कंपनी में अवैध हथियार

अवैध हथियार
Image caption ज़ब्त किए गए हथियारों को मीडिया के सामने प्रस्तुत किया गया

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में पुलिस ने उस निजी सुरक्षा कंपनी से अवैध हथियार बरामद किये हैं जो अमरीकी दूतावास की सुरक्षा में लगी है.

इंटर-रिस्क नाम की इस सुरक्षा कंपनी से पुलिस ने कथित तौर पर 60 से भी ज़्यादा राइफलें और 9 पिस्तौलें बरामद की हैं, जिनके लाईसेंस नहीं हैं.

इस्लामाबाद पुलिस इंटर-रिस्क सुरक्षा कंपनी के मालिक को ढूंढ रही है. इस बीच कम्पनी के दफ़्तर से दो कर्मचारियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

इस कंपनी पर इस्लामाबाद पुलिस के छापे के पहले मीडिया में खबरें आ रहीं थीं, कि अमरीकी दूतावास एक ऐसी अमरीकी सुरक्षा कंपनी को इस्तेमाल करती है, जिसका नाम पहले ब्लैकवाटर हुआ करता था.

ब्लैकवाटर कंपनी पर यह आरोप लगाए गए थे कि इराक़ में अमरीकी राजनयिकों की सुरक्षा के दौरान इसके सुरक्षा कर्मी बग़दाद में आम इराक़ी नागरिकों को मारते थे.

इस्लामाबाद में अमरीकी दूतावास के एक प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की है कि इंटर-रिस्क कंपनी के साथ अमरीकी दूतावास के प्रतिबंध है, लेकिन कहा है कि ब्लैकवाटर कंपनी का इस्तेमाल पाकिस्तान में नहीं किया जाता .

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि आख़िर इस्लामाबाद पुलिस ने इंटर-रिस्क सुरक्षा कंपनी पर छापा क्यों मारा? लेकिन इस घटना से यह संकेत ज़रूर मिलते हैं कि विदेशों में अमरीकी राजनयिक ठिकानों की सेवा में लगी निजी सुरक्षा कंपनियों के प्रति आशंका पैदा हो रही है.

संबंधित समाचार