'स्थानीय झगड़े से हुई मौत'

Image caption पुलिस ने पहले कहा था कि तालेबान ने छह लोगों का सर काट दिया है

अफ़ग़ानिस्तान में अधिकारियों ने अब कहा है कि वहाँ जिन छह लोगों के सर कलम किए गए हैं वो किसी स्थानीय झगड़े का नतीजा है न कि तालेबान ने उन्हें मारा है.

पहले पुलिस ने कहा था कि तालेबान ने छह ऐसे संदिग्ध लोगों का सर कलम कर दिया है जिन पर उन्हें शक़ था कि ये सरकार के लिए जासूसी करते थे.

लेकिन अब ऊरुज़गान में अपराध विभाग के प्रमुख ग़ुलाब खान ने कहा है कि छात्रों के दो गुटों के बीच झगड़ा हुआ जिस कारण ये मौतें हुई हैं. लेकिन ये स्पष्ट नहीं है कि हिंसा किस वजह से हुई.

जब तालेबान द्वारा सर कलम किए जाने की बात सामने आई थी तो संवाददाताओं का तर्क था ऐसा कम ही होता है कि तालेबान इतने सारे लोगों का एक साथ क़त्ल करे.

इससे पहले एक अन्य घटनाक्रम में ख़बर आई थी कि दक्षिण-पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान में एक आत्मघाती हमले में मारे गए आठों अमरीकी नागरिक ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए के लिए काम करते थे.

तालेबान ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है. तालेबान के एक प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया है कि आत्मघाती हमलावर अफ़ग़ान सेना में भर्ती हुआ था.