भारत दौरा सफल रहा: शेख हसीना

शेख हसीना
Image caption बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने भारत यात्रा को सफल बताया

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भारत के अपने दौरे को सौ फ़ीसदी सफल बताया है.

ढाका लौटने पर उन्होंने कहा कि उनकी दौरा पड़ोसी देशों से संबंध मजबूत करने के लिए था.

इस दौरान सुरक्षा, अपराध और आंतकवाद से निपटने और बिजली की भागीदारी पर समझौते हुए.

इन समझौतों में आपराधिक मामलों में एक दूसरे को क़ानूनी सहायता देने, सजायाफ्ता लोगों को अपने अपने देशों तक पहुंचाने, अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद, संगठित अपराध, अवैध मादक पदार्थों की तस्करी, ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग संधि और सांस्कृतिक आदान प्रदान कार्यक्रम पर सहमति शामिल है.

साथ ही भारत ने बांग्लादेश के विकास के लिए साढ़े चार हज़ार करोड़ सहायता देने का वादा किया है.

इस धन का इस्तेमाल रेलवे के ढाँचे में सुधार आदि में ख़र्च होगा.

भारत और बांग्लादेश के बीच सड़क मार्ग से नए रास्ते पर सहमति बनी है.

अजमेर में जियारत

जयपुर से बीबीसी संवाददाता नारायण बारेठ के अनुसार रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री शेख हसीना ने बुधवार को अजमेर में ख्वाजा मोइनुदीन चिश्ती की पवित्र दरगाह में जियारत की और अमन और सदभाव के लिए दुआ की.

वो कोई पचास मिनट तक दरगाह परिसर में रही और दोनों देशों में शांति और बेहतर रिश्तो के लिए दुआ की.

इस मौक़े पर दरगाह और उसके आसपास कड़े सुरक्षा बंदोबस्त किए गए थे .

शेख हसीना की जियारत के दौरान किसी को भी वहां जाने की अनुमति नहीं दी गई.

संबंधित समाचार