बगराम के क़ैदियों की सूची जारी

बगराम में सैनिक

आरोप हैं कि बगराम में क़ैदियों से दुर्व्यवहार किया गया

अमरीकी अधिकारियों ने अफ़ग़ानिस्तान के बगराम बंदीगृह में क़ैद करके रखे गए 645 लोगों की एक सूची जारी कर दी है.

यह सूची अब तक गोपनीय थी लेकिन सूचना के अधिकार के तहत दायर की गई एक याचिका के बाद इसे जारी किया गया है.

मानवाधिकार के लिए काम करने वाली संस्था अमरीकन सिविल लिबर्टीज़ यूनियन (एसीएलयू) ने याचिका दायर करके क़ैदियों और उनसे किए गए व्यवहार की जानकारी मांगी थी.

अमरीकी अधिकारियों ने पहले इस सूची को प्रकाशित करने से इनकार कर दिया था.

बगराम के बंदीगृह में क़ैदियों से दुर्व्यवहार की कई ख़बरें मिली थीं और सीआईए पर आरोप लगे थे कि वह चरमपंथ के अभियुक्तों के साथ बदसलूकी करता रहा है.

हालांकि अब अमरीकी प्रशासन ने कहा है वह बंदीगृहों को ज़्यादा मानवीय बनाना चाहते हैं.

पहला क़दम

पूरी पारदर्शिता और जवाबदेही के लिए यह जानकारी भी चाहिए कि किसे कितने दिनों तक क़ैद में रखा गया, वे किस देश के नागरिक थे, उन्हें किस जगह हिरासत में लिया गया, किसी युद्ध क्षेत्र में या फिर अफ़ग़ानिस्तान से दूर किसी देश में

मेलिसा गुडमैन, एसीएलयू की वकील

एसीएलयू की वकील मेलिसा गुडमैन ने सूची के प्रकाशन के बारे में कहा, "यह बगराम के गुप्त बंदीगृह के बारे में पारदर्शिता और जवाबदेही की ओर एक महत्वपूर्ण क़दम है."

लेकिन उन्होने कहा कि यह अभी पहला क़दम ही है.

उन्होंने कहा, "पूरी पारदर्शिता और जवाबदेही के लिए यह जानकारी भी चाहिए कि किसे कितने दिनों तक क़ैद में रखा गया, वे किस देश के नागरिक थे, उन्हें किस जगह हिरासत में लिया गया, किसी युद्ध क्षेत्र में या फिर अफ़ग़ानिस्तान से दूर किसी देश में."

समाचार एजेंसी एपी के अनुसार अमरीकी रक्षा मंत्रालय ने एक पत्र जारी करके कहा है कि 'कुछ ही क़ैदियों की उम्र 16 साल से कम' थी.

जो सूची जारी की गई है वो उन लोगों की है जो बगराम के बंदीगृह में सितंबर, 2009 को क़ैद थे.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.