छोटा भाई समझकर माफ़ कर दें-शोएब

शोएब मलिक
Image caption शोएब ने आयशा के मामले मे साथ देने के लिए पाकिस्तानी जनता का आभार प्रकट किया है

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान शोएब मलिक ने आयशा सिद्दीक़ी को तलाक देने के बाद पाकिस्तान की जनता का आभार प्रकट किया है और कहा कि मुश्किल समय में साथ देने के लिए वो राष्ट्र के शुक्रगुज़ार हैं.

शोएब ने एक प्रेस बयान जारी करके कहा है कि वो पाकिस्तानी जनता के समर्थन लिए उनके एहसानमंद हैं.

शोएब मलिक ने प्रेस बयान में कहा, "मैं सबसे पहले अल्लाह का शुक्रगुज़ार हूं और मैं राष्ट्र और मीडिया का भी आभारी हूं, जिसने हमें मुश्किल स्थिति से निपटने की शक्ति दी."

उनका कहना था, "मैं सच और झूठ का फ़ैसला करने वाला नहीं हूं और अगर जाने-अनजाने मेरी वजह से किसी को तकलीफ़ पहुंची है तो मुझे अपना छोटा भाई समझ कर माफ़ कर दें."

शोएब का कहना था कि पाकिस्तानी होने पर उनको गर्व है और वो सानिया के साथ पाकिस्तान आकर निजी तौर पर लोगों के प्रति आभार प्रकट करेंगे.

मीडिया के रवैये और सानिया पर उन्होंने कहा, "मीडिया भी मेरे परिवार की तरह है. ऐसे समय जब मैं और सानिया शादी करने जा रहे हैं तो मैं सबसे कहूँगा कि मेरे लिए दुआ करें."

29 मार्च को सानिया के परिवारवालों ने शोएब से उनकी शादी की पुष्टि की थी. लेकिन मामला उस समय नया मोड़ ले लिया जब हैदराबाद की रहने वाली आयशा सिद्दीक़ी ने दावा किया कि वो शोएब की पत्नीं हैं और उनका निकाह वर्ष 2002 में हुआ था.

लेकिन शोएब लगातार आयशा के दावे को झुठलाते रहे. जब चार अप्रैल को आयशा के परिवार ने हैदराबाद में शोएब के खि़लाफ़ एफ़आईआर दर्ज कराई तो शोएब की मुश्किलें बढ़ गई.

पुलिस ने शोएब के पासपोर्ट को ले लिया और जांच का काम शुरु कर दिया. इस बीच शोएब और आयशा के परिवार वालों के बीच कई लोग सुलह की बात करते रहे और मंगलवार को आख़िरकार शोएब ने आयशा को तलाक़ देने का फ़ैसला किया.

संबंधित समाचार