पाकिस्तान की रंग-बिरंगी गाड़ियाँ

  • ट्रक पेंट करता एक पेंटर
    पाकिस्तान में रंग-बिरंगी गाड़ियों की एक पुरानी परंपरा है. कहते हैं कि इसकी शुरुआत इसलिए हुई कि ट्रक ड्राइवरों को अपने घर की याद आती रहे (सभी तस्वीरें: शैली ठकराल)
  • ट्रक पेंट करते पेंटर
    गाड़ियों के हर हिस्से को रंगा जाता है चाहे वह लकड़ी का बना ढांचा हो या लोहे की बनी ज़ंजीर. ये कलाकार गाड़ियों पर थ्री डी चित्र बनाने में भी माहिर होते हैं.
  • एक रंगा हुआ ट्रक
    ट्रकों पर बनाए जाने वाले चित्रों की एक लंबी सूची है. इन गाड़ियों पर पहाड़ों के दृश्य से लेकर शेर और मोर जैसे वन्यजीवों को भी उकेरा जाता है.
  • ट्रक पेंट करते पेंटर
    खाने-पीने के सामान से लेकर कल-पुर्जों तक को देश के एक हिस्से से दूसरे हिस्से तक पहुँचाने वाले इन ट्रकों को पेंट करने में एक हफ्ते तक का समय लगता है.
  • सजा हुआ ट्रक
    एक ट्रक पर बना उसके जैसे ही किसी ट्रक का चित्र. कई बार तो उड़ते हुए घोड़े जैसे अलौकिक चित्र भी बनाए जाते हैं.
  • सजी हुई कार
    गाड़ियों को रंगने के काम में लगे चित्रकारों में से अधिकतर का यह पुश्तैनी धंधा है. उन्होंने यह काम अपने बाप-दादा से सीखा है.
  • वॉक्स वैगन
    पाकिस्तान में फॉक्सी के नाम से मशहूर इस फॉक्स वैगन को पेंट करने में 25 दिन का समय लगा. अब इसे जर्मनी भेजा जाएगा.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.