पाकिस्तान की बदनामी होगी: रहमान

फ़ैसल शहज़ाद
Image caption पाकिस्तान की सरकार शहज़ाद के माता-पिता पर नज़र रखे हुए है

पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक का कहना है कि न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर में नाकाम बम धमाके के आरोप में पाकिस्तानी मूल के अमरीकी नागरिक फ़ैसल शहज़ाद की गिरफ़्तारी से उनके देश का नाम बदनाम होगा.

हालांकि उनका कहना है कि ये मामला अमरीका का है और शहज़ाद एक अमरीकी नागरिक हैं.

रहमान मलिक ने कहा कि अमरीका में फ़ैसल शहज़ाद की गिरफ़्तारी के बाद पाकिस्तान सरकार ने उचित क़दम तो उठाएं हैं, लेकिन अमरीका से औपचारिक जानकारी का इंतज़ार है.

उन्होंने बीबीसी के अलीम मक़बूल से विशेष बातचीत में कहा कि फ़ैसल शहज़ाद के बार में मीडिया से मिलने वाली जानकारी के बाद पाकिस्तान में अमरीकी राजदूत से मुलाक़ात हुई है और उन्हें बग़ैर किसी शर्त के सहयोग का आश्वासन दिया गया है.

कार्रवाई

रहमान मलिक ने बताया, "फ़ैसल शहज़ाद के परिवार का पता चल चुका है और वे सरकारी की निगरानी में हैं, लेकिन उन्हें अभी तक गिरफ़्तार नहीं किया गया है."

उन्होंने आगे कहा, "सरकार ने मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट सहित कुछ जानकारी इकट्ठी की हैं और किसी ठोस कार्रवाई के लिए अमरीका से सूचना का इंतज़ार है."

गृहमंत्री के अनुसार फ़ैसल शहज़ाद पाकिस्तानी वायुसेना के एक सेवानिवृत्त वरिष्ठ अधिकारी के बेटे हैं.

उन्होंने कहा कि शहज़ाद के परिवार के कुछ सदस्य अहम पदों पर भी हैं और आतंकवादियों की ऐसे परिवारों तक पहुंच चिंताजनक है.

अमरीका में गिरफ़्तार फ़ैसल शहज़ाद के बार में और जानकारी देते हुए रहमान मलिक ने बताया कि उन्होंने ख़ैबर पख़्तूनख़्वा प्रांत के शहर मर्दान में शादी की है और उनके सुसर सऊदी अरब में रहे हैं और नब्बे के दशक के अंत में उन्होंने अमरीकी नागरिकता प्राप्त कर ली.

रहमान का कहना था, "आतंकवादी पाकिस्तान को नाकाम रियासत साबित करना चाहते हैं, लेकिन सरकार ने उनकी कमर तोड़ दी है."

उन्होंने कहा कि अमरीका में बारूद से भरी एक गाड़ी मिली है तो पूरी दुनिया का ध्यान इस पर है लेकिन पाकिस्तान में ऐसी गाड़ियाँ फटती हैं और पाकिस्तान ऐसी आतंकवादी गतिविधियों का कई सालों से शिकार है.

संबंधित समाचार