'संगीन से ब्रितानी सैनिक हटेंगे'

संगीन में ब्रितानी सैनिक
Image caption संगीन में कई ब्रितानी सैनिक हताहत हुए हैं

बीबीसी को जानकारी मिली है कि अफ़ग़ानिस्तान के हेलमंद प्रांत के संगीन क्षेत्र में मौजूद ब्रितानी सैनिक अपना कार्यभार अमरीकी सैनिकों को सौंपेगे.

यह कार्रवाई इस साल के अंत तक होने की संभावना है.ब्रितानी रक्षा मंत्री लियम फ़ॉक्स बुधवार को सांसदों को इस बात की जानकारी दे सकते हैं.

ग़ौरतलब है कि संगीन इलाक़े में हताहत होने वाले ब्रितानी सैनिकों की संख्या काफ़ी रही है. वर्ष 2001 में जबसे अफ़गानिस्तान में युद्ध की शुरूआत हुई तब से 312 ब्रितानी सैनिक मारे गए हैं. इनमें से एक तिहाई सैनिकों की मौत संगीन इलाक़े में ही हुई है.

पिछले महीने ब्रितानी सैनिकों ने हेलमंद का नेतृत्व एक अमरीकी जनरल को सौंपा था.

'सामान्य कार्रवाई'

इस बात की संभावना है कि फ़ॉक्स इस बात की घोषणा करेंगें कि हेलमंद के उत्तरी और दक्षिणी हिस्सों को अमरीकी सैनिकों को सौंप कर ब्रितानी सैनिक हेलमंद के केंद्रीय इलाक़ों पर अपना ध्यान केंद्रित करेंगे.

हालांकि बीबीसी के रक्षा मामलों के संवाददाता जोनाथन बील का कहना है कि ब्रितानी मंत्री फ़ॉक्स को मुश्किल सवालों का सामना करना पड़ सकता है, ख़ासकर मारे गए ब्रितानी सैनिकों के परिवार वाले उनसे पूछ सकते हैं.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि परिवार वाले ये सवाल उठा सकते हैं कि क्या उन्होंने इतना बड़ा त्याग अमरीकी सैनिकों को ज़िम्मेदारी सौंपने के लिए ही किया था.

जोनाथन बील के मुताबिक लोग इसे ब्रितानी सैनिकों के पीछे हटने और उनका स्थान अमरीकी सैनिकों के लेने की कार्रवाई के रूप में देख सकते हैं.

हेलमंद प्रांत में जहाँ 8000 हज़ार ब्रितानी सैनिक हैं वहीं अमरीकी सैनिकों की संख्या 20000 है.

कंजरवेटिव पार्टी के सांसद और पूर्व सैन्य अधिकारी पैट्रीक मेरसर का कहना है कि यह एक सामान्य कार्रवाई है और इसे किसी भी सूरत में सैनिकों के पीछे हटने की कोशिश के रूप में नहीं देखा जा सकता.

संबंधित समाचार