पाकिस्तान में चाहिए और हेलिकॉप्टर

पाकिस्तान की बाढ़ से दो करोड़ लोग प्रभावित हैं

संयुक्त राष्ट्र की खाद्य संस्था, विश्व खाद्य कार्यक्रम का कहना है कि पाकिस्तान की बाढ़ से प्रभावित लाखों लोगों की मदद के लिए तुरंत और हेलिकॉप्टरों की ज़रूरत है.

संस्था का कहना है कि बाढ़ की वजह से लाखों लोग ऐसी जगहों पर फंसे हैं जहाँ बिना हेलिकॉप्टर के राहत पहुँचाना संभव नहीं है.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने पाकिस्तान की बाढ़ को 'धीमी गति का सुनामी' बताया है.

बान की मून का कहना है कि कई सड़कें और पुल टूट गए हैं बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे हुए लाखों लोगों तक खाना और राहत सामग्री पहँचाने के लिए जल्द से जल्द क़दम उठाए जाने की ज़रूरत है.

45 हेलिकॉप्टर, 60 हज़ार सैनिक

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता जेनरल अथर अब्बास ने बीबीसी को बताया कि राहत कार्य में पाकिस्तानी सेना के 45 हेलिकॉप्टर और 60 हज़ार सैनिक लगे हुए हैं और अमरीकी सेना के 15 हेलिकॉप्टर भी मदद कर रहे हैं.

पाकिस्तान में बचाव और राहत कार्यों के लिए गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र के विशेष सत्र के दौरान अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने और धन-राशि का वादा किया था.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा है कि उन्हें भरोसा दिलाया गया है कि संयुक्त राष्ट्र ने मदद का जो 46 करोड़ डॉलर का वादा किया है वह आसानी से पूरा हो जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि उसने जो लक्ष्य रखा है उसका 55 फ़ीसदी पूरा हो गया है और बाक़ी को पूरा करने के लिए एक और अपील जारी की जाएगी.

बाढ़ के बाद बीमारी

पाकिस्तान की सरकार का कहना है कि अब उसके दक्षिण का प्रांत सिंध बाढ़ से सबसे ज़्यादा प्रभावित हो रहा है.

वहां बाढ़ से संबंधित नई चेतावनी जारी की गई है और लोगों को गाँव खाली कराकर सुरक्षित स्थान तक पहुंचाया जा रहा है.

Image caption देश का क़रीब पांचवां हिस्सा बाढ़ में डूबा है

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि बाढ़ के बाद अब बीमारियों का ख़तरा बढ़ गया है और हैजा, दस्त और मलेरिया के मामले बड़ी संख्या में लगातार सामने आ रहे हैं.

राहत संस्थाओं का कहना है कि बचाव कार्य के लिए कई संस्थाओं से आर्थिक मदद मिलनी शुरू हो गई है लेकिन और मदद की ज़रूरत है.

पूरे पाकिस्तान का लगभग पाँचवाँ हिस्सा अभी भी बाढ़ के पानी में डूबा हुआ है और क़रीब 60 लाख पाकिस्तानी बेघर हो गए हैं.

कुल मिलाकर दो करोड़ से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं.

संबंधित समाचार