बातचीत सही दिशा में बढ़ रही है: पिल्लै

भारत पाकिस्तान के झंडे
Image caption मुंबई हमलों के बात भारत-पाक समग्र वार्ता पर विराम लगा हुआ था

भारत के गृह सचिव जीके पिल्लै और पाकिस्तान के गृह सचिव क़मर जमान के बीच दिल्ली में दो दिन की बातचीत के पहले दिन दोनों पक्षों ने कहा है कि बातचीत सकारात्मक रही है.

दोनों देश मंगलवार को बातचीत पर संयुक्त बयान जारी करेंगे.

भारत-पाक सभी मुद्दों पर बात करने पर सहमत

जिन मुद्दों पर बातचीत हो रही है वे हैं आतंकवाद का सामना करना, जिसमें 2008 के मुंबई हमलों से संबंधित मुकदमे शामिल हैं, मादक पदार्थों की तस्करी रोकना और वीज़ा नियमों को आसान बनाना.

भारत के गृह सचिव जीके पिल्लै ने सोमवार की बातचीत के बाद कहा, " चर्चा सकारात्मक रही और हम सही दिशा में जा रहे हैं. कल बातचीत के बाद संयुक्त बयान जारी किया जाएगा."

पाकिस्तान के गृह सचिव क़मर जमान ने भी बातचीत पर तसल्ली जताई.

महत्वपूर्व है कि ये बातचीत भारत-पाक क्रिकेट टीमों के बीच मोहाली में बुधवार को हो रहे मैच से पहले हो रही है.

मैच को भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पाकिस्तान के प्रधानंमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी साथ-साथ मोहाली में देखेंगे. संभवत: इसके बाद दोनों नेताओं के बीच बातचीत भी होगी.

थिम्पू से हुई शुरुआत

ग़ौरतलब है कि थिम्पू में इस साल फ़रवरी में भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों की बैठक में कई मुद्दों पर बातचीत पर सहमति बनी थी.

पर्यवेक्षकों का मानना था कि जिन मुद्दों पर सहमति बनी थी वे सभी समग्र वार्ता के मुद्दे है, केवल समग्र वार्ता का नाम नहीं लिया गया.

जो प्रक्रिया इस समय सचिव स्तर की बातचीत की चल रही है वह इसी सहमति का नतीजा है. इसके बाद जुलाई से पहले वाणिज्य सचिवों और जल मामलों के सचिवों की बात होगी और फिर प्रक्रिया आगे बढ़ेगी.

जिन मुद्दों पर थिंपू में सहमति बनी थी वे हैं - आतंकवाद का सामना (जिसमें मुंबई हमलों का मुकदमा शामिल है), मानवीय मुद्दे, शांति और सुरक्षा (जिसमें विश्वास बढ़ाने के क़दम शामिल हैं), जम्मू और कश्मीर, दोनों देशों के बीच दोस्ताना रिश्तों के बढ़ाने के कदम, सियाचिन, आर्थिक मुद्दे, वूलर बराज, तुलबुल परियोजना और सर क्रीक.

संबंधित समाचार