सितारे दे रहे हैं पुलिस को सीख

नेपाली पुलिस इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption नेपाली यातायात पुलिस की छवि बहुत अच्छी नहीं है

नेपाल की यातायात पुलिस को शिष्टाचार और भीड़-भाड़ में अपने गुस्से को नियंत्रित करने का प्रशिक्षण यहां के फिल्म और टीवी स्टार दे रहे हैं.

पुलिस के वरिष्ट अधिकारियों को आशा है कि शहर की भीड़ भाड़ वाली सड़कों पर इस प्रशिक्षण की मदद से पुलिस वाले काम के दबाव में भी ठंडे बने रह पाएंगे.

कई नेपालियों को शिकायत रहती है कि यहाँ के पुलिस वाले गुस्सैल और बदतमीज़ हैं.

ये प्रशिक्षण ड्राइवरों को नियंत्रित करने के प्रशिक्षण का एक हिस्सा है.

हर कोई जल्दी में

यातायात पुलिस के उप महानिरीक्षक बिज्ञान राज शर्मा का कहना था, “हम अपने कर्मचारियों के व्यवहार से बेहद चिंतित है. हम चाहते हैं कि हमारी यातायात पुलिस इस बात को समझे कि लोग उनके व्यवहार के बारे में क्या सोचते हैं. और यही सीख हमें दी जा रही है.”

इस प्रशिक्षण में छात्र और नागरिक समाज के लोग भी शामिल है.

आज भी कई लोग इस प्राचीन शहर काठमांडू को हिमालय में स्थित स्वर्ग समान भूमि मानते हैं पर नेपाल की राजधानी को आज शांतिपूर्ण कहीं से नहीं कहा जा सकता.

ख़राब हालत

भीड़भाड़, ख़राब नगर योजना ने एक समय के इस शांत शहर को शोरगुल वाले शहर में तब्दील कर दिया है.

साथ ही देश की ख़स्ता हाल सड़कें जिन पर पुरानी, अविश्वसनीय और प्रदूषण फैलाने वाली करीब पाँच लाख गाड़िया चलती हैं समस्या को गंभीर बनाती हैं.

कई नेपाली बिना प्रशिक्षण के गाड़ी चलाते हैं. वे सड़क के नियमों, ट्रैफिक लाइटों, लेन ड्राइविंग सभी का उल्लंघन करते हैं.

शहर के 800 यातायात पुलिसकर्मी हर चौराहे पर तैनात है, पर यहां बिजली जाने की समस्या से ट्रैफिक लाइट भी ठीक से नहीं चल पाती.

पिछले कुछ हफ्तों से गश्त बढ़ाई गई है ताकि जाम जो कि काठमांडू की पहचान बनते जा रहे हैं उन्हें दूर किया जा सके.

संबंधित समाचार