'अल-क़ायदा नेताओं की पहचान हो गई है'

लियोन पैनेटा (फ़ाईल फ़ोटो) इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption लियोन पैनेटा के इस दावे में कितनी सच्चाई है फ़िलहाल ये कहना मुश्किल है.

अमरीका के नए रक्षा मंत्री लियोन पनेटा ने कहा है कि ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद पाकिस्तान, यमन और दूसरी जगहों में मौजूद अल-क़ायदा के केंद्रीय नेताओं का पता चल गया है.

रक्षा मंत्री ने कहा कि उन नेताओं के मारे जाने के बाद अल-क़ायदा के पास किसी भी चरमपंथी साज़िश को कार्यान्वित करने की क्षमता नहीं रहेगी.

रक्षा मंत्री बनने के बाद अफ़ग़ानिस्तान के पहले दौरे पर गए लियोन पनेटा ने कहा, ''अमरीका समझता है कि वो अब अल-क़ायदा को पूरी तरह हराने के बहुत क़रीब पहुंच चुका है और दस से बीस केंद्रीय नेताओं को ख़त्म करने के बाद अल-क़ायदा की किसी भी चरमपंथी साज़िश को अंजाम देने की सलाहियत समाप्त हो जाएगी.''

पत्रकारों से बातचीत करते हुए पनेटा ने कहा कि अमरीकी विशलेषकों के अनुसार अल-क़ायदा के दस से बीस नेताओं की मौत या उनकी गिरफ़्तारी उसकी ताक़त को पूरी तरह ख़त्म कर देगी.

लियोने नेटा ने आगे कहा, असल बात ये है कि हम ओसामा बिन लादेन तक पहुंच गए और फिर हमने पाकिस्तान और यमन में अल-क़ायदा के नेताओं की पहचान कर ली है.

हालाकि उन्होंने अल-क़ायदा के केंद्रीय नेताओं के नाम बताने से इनकार कर दिया.

अल-क़ायदा के दो बड़े नेताओं में शामिल मौजूदा प्रमुख ऐमन अल-ज़वाहिरी कथित तौर पर पाकिस्तान के क़बायली इलाक़ों में छुपे हुए हैं जबकि दूसरे बड़े नेता अनवार अल-अवलाकी यमन के दूर दराज़ पहाड़ों में कहीं छुपे हुए हैं.

संबंधित समाचार