अफगानिस्तान: सरे आम महिला को मारी नौ गोलियाँ

अफगानिस्तान इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption बताया जा रहा है कि महिला पर एक से अधिक पुरुषों के साथ शारीरिक संबंध होने का आरोप था

अफ़ग़ानिस्तान में एक वीडियो जारी हुआ है जिसमें तालिबान को एक महिला को सार्वजनिक तौर पर गोली मारते हुए दिखाया गया है.

वीडियो में दिखाया गया है कि एक महिला सिर ढँके हुए बैठी है और वो न तो भागने की कोशिश कर रही है और न ही जान बचाने के लिए गिड़गिड़ा रही है.

तालिबान का एक सदस्य राइफल लिए उसके पास पहुँचता है. पहली गोली की आवाज़ से कोई प्रतिक्रिया नहीं होती. दूसरी गोली से भी महिला में कोई हलचल नहीं दिखती मगर वो गोली आगे रखे एक बड़े पत्थर से टकराती है और तेज चिंगारी निकलती है.

अगली गोली चलती है और महिला का शरीर जमीन पर जा गिरा. इसके बाद भी वो व्यक्ति अगली गोली दागता है. शरीर हल्का सा हिलता है मगर वो शायद तेज गोली के चलते हुई हलचल थी.

इसके बाद राइफल लिए वो व्यक्ति पाँच और गोलियाँ चलाता है और तब शायद उसे इस बात की संतुष्टि हो जाती है कि वो महिला अब जिंदा नहीं है.

वीडियो में दिखाए गए अगले दृश्य से पता चलता है कि ये किसी सुनसान इलाके की घटना नहीं है बल्कि उसके इर्द-गिर्द बड़ी संख्या में लोग खड़े हैं. वे सभी इस घटना के गवाह थे.

इसके बाद वे नारे लगाते दिखते हैं. उनमें से कुछ 'अल्लाहो अकबर' और कुछ 'अफगान मुजाहिदीन जिंदाबाद' के नारे लगा रहे थे.

महिला

परवान प्रांत के गवर्नर अब्दुल बसीर सालंगी ने बताया कि ये महिला एक हफ्ते पहले मारी गई थी.

उस महिला को इस तरह सार्वजनिक तौर पर गोली मारे जाने की वजह स्पष्ट नहीं है मगर बताया जा रहा है कि शायद उस पर एक से ज्यादा पुरुषों के साथ शारीरिक संबंध रखने का आरोप था.

जिस जगह ये वारदात हुई है वो अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से लगभग सौ किलोमीटर ही दूर है.

अफगान सांसद फौजिया कूफी ने इसे काफी सकते में डालने वाला बताया है.

वह कहती हैं, "मुझे लगता है कि हमें इस बारे में कुछ गंभीर करना होगा. हमें बतौर महिला ही नहीं बल्कि आम लोगों के तौर पर भी कुछ करना होगा. उसने खुद को बचाने के लिए एक शब्द भी नहीं कहा."

ये वीडियो ऐसे समय में सामने आया है जबकि अफगानिस्तान में महिलाओं के अधिकार को लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चिंता जताई जा रही है.

संबंधित समाचार