भारत और न्यूज़ीलैंड कानपुर में ऐतिहासिक मैच खेलेंगे

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption विराट कोहली

भारत गुरूवार को कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ पहला टेस्ट मैच खेलने के लिए मैदान में उतरेगा.

उसके साथ ही भारत टेस्ट क्रिकेट में 500वां टेस्ट मैच खेलने वाला चौथा देश हो जाएगा. इससे पहले इंग्लैंड ने 976, ऑस्ट्रेलिया ने 791 और वेस्ट इंडीज़ ने 517 टेस्ट मैच खेले हैं. दूसरी तरफ़ न्यूज़ीलैंड का यह 412वां टेस्ट मैच होगा.

इस टेस्ट मैच के शुरू होने से पहले ही भारत के तेज़ गेंदबाज़ इशांत शर्मा चिकनगुनिया का शिकार होकर टीम से बाहर हो गए. हालांकि वह पूरी सिरीज़ से बाहर नहीं हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption ईशांत शर्मा

वहीं न्यूज़ीलैंड के तेज़ गेंदबाज़ टिम साउदी पहले ही टख़ने की चोट के कारण पूरी टेस्ट सिरीज़ से बाहर हो चुके हैं.

इसके अलावा न्यूज़ीलैंड को दूसरा झटका तब लगा जब ऑलराउंडर जिमी निशाम भी चोटिल होकर पहले टेस्ट मैच से बाहर हो गए.

भारत के कोच अनिल कुंबले का मानना है कि इंशात शर्मा के बाहर होने के बावजूद टीम में भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी और उमेश यादव मौजूद हैं.

स्पिनर की ज़िम्मेदारी निभाने के लिए अनुभवी आर अश्विन, अमित मिश्रा और रविंद्र जडेजा हैं.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption आर अश्विन

कानपुर का विकेट वैसे भी नीची रहती गेंद के लिए जाना जाता है. ऐसे में भारत दो तेज़ गेंदबाज़ और तीन स्पिनर के साथ उतर सकता है.

वैसे मैच से पहले भारत के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह अभी नहीं बता सकते कि वह कितने गेंदबाज़ों के साथ उतरेंगे.

उनका मानना है कि इससे दूसरी टीम आपकी ताक़त के बारे में अनुमान लगा लेती है.

बल्लेबाज़ी में भारत के कप्तान विराट कोहली के सामने सलामी बल्लेबाज़ के रूप में तीन विकल्प हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption के एल राहुल

एक तो के एल राहुल ज़बर्दस्त फॉर्म में हैं. इनके अलावा मुरली विजय और शिखर धवन हैं. शिखर धवन पिछले कुछ समय से फॉर्म में नहीं है.

ऐसे में के एल राहुल और मुरली विजय को अवसर मिल सकता है.

देखना होगा कि अजिंक्या रहाणे के बाद विराट कोहली चेतेश्वर पुजारा पर भरोसा करते है या फिर रोहित शर्मा पर.

रोहित शर्मा का बल्ला टेस्ट क्रिकेट में लगातार मिलते अवसर के बावजूद अधिक नहीं चला है. वहीं चेतेश्वर पुजारा ने दिलीप ट्रॉफी के फाइनल में दोहरा शतक जमाकर अपना दावा मज़बूती से पेश किया है.

विकेटकीपर रिद्धिमान साहा ने भी पिछले वेस्ट इंडीज़ दौरे पर शतक जमाकर अपनी बल्लेबाज़ी का भरोसा टीम को दिलाया है.

अब अगर न्यूज़ीलैंड की बात की जाए तो कप्तान केन विलियम्सन के अलावा रोस टेलर और मार्टिन गप्टिल के अलावा विकेटकीपर बीजे वाटलिंग और ल्यूक रोंकी बेहतरीन बल्लेबाज़ हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption केन विलियम्सन

भारत टर्निंग लेते विकेट की आशंका के बीच कानपुर में अपने तीनों स्पिनरो को उतार सकता है.

इसमें खब्बू स्पिनर मिचेल सैंटनर, लैगब्रेक गेंदबाज़ ईश सोढी और ऑफ़ स्पिनर मार्क क्रेग शामिल हैं.

इससे पहले भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच 54 टेस्ट मैच खेले गए हैं. इनमें से भारत ने 18 जीते हैं और 10 हारे हैं जबकि 26 टेस्ट मैच ड्रॉ रहे.

भारत ने पिछले दिनों वेस्ट इंडीज़ को उसी की ज़मीन पर पहली बार 2-0 से हराकर टेस्ट सिरीज़ जीती थी इसलिए टीम के हौसले बुलंद है.

इससे पहले भारत ने अपनी ही ज़मीन पर दक्षिण अफ्रीका को 2-0 से हराया था. अब देखना है कि कानपुर में पहले दो दिन बारिश का साया मैच पर पडने की भविष्यवाणी के बीच दोनो टीमें कैसा प्रदर्शन करती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)