स्मृति मंधाना के लिए बिग बैश लीग ख़ास

इमेज कॉपीरइट Bcci
Image caption स्मृति मंधाना

लगभग एक महिना पहले ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश टी-20 लीग की टीम ब्रिस्बेन हीट ने बीसीसीआई से मुझे अपनी टीम में रखने के लिए सम्पर्क किया.

उसके बाद अनुबंध की शर्तो पर मेरी ब्रिस्बेन हीट से बात हुई और मुझे खुशी है कि मै उनसे जुड रही हूं.

यह कहना है भारतीय महिला क्रिकेट टीम की बल्लेबाज़ स्मृति मंधाना का.

वह बिग बैश टी-20 महिला लीग से जुडने वाली दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी है.

उनसे पहले भारत की हरमनप्रीत कौर बिग बैश टी-20 लीग से जुडने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनी थी.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption हरमनप्रीत कौर

उन्होंने पिछले साल गत चैंपियन सिडनी थंडर्स के साथ एक साल का अनुबंध किया था.

वह 2016-17 के सत्र में खेलेंगी.

स्मृति मंधाना कहती है कि अच्छा होता अगर एक-दो और भारतीय महिला खिली भी बिग बैश लीग से जुड जाती. इससे भारतीय महिला क्रिकेट को बेहद फ़ायदा होता.

स्मृति मंधाना भारत के लिए 20 टी-20 अंतराष्ट्रीय मैच खेल चुकी है.

उनका सर्वाधिक स्कोर दक्षिण अफ्रीकी महिला टीम के ख़िलाफ साल 2014 में बैंग्लौर में बनाए गए 52 रन है.

स्मृति मंधाना इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ पिछले साल तीन टी-20 मैचों की सिरीज़ भी खेल चुकी है.

तब पहली बार भारतीय महिला टीम ने विदेश में अपनी पहली टी-20 सिरीज़ 2-1 से जीती थी.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption मिताली राज

स्मृति मंधानी मानती है कि भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज और अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ झूलन गोस्वामी ने उनकी बहुत मदद की है.

स्मृति मंधाना इसी साल भारत में हुए महिला टी-20 विश्व कप क्रिकेट टुर्नामैंट में भी भारतीय महिला टीम का अहम हिस्सा थी.

उन्हे इस बात का दुख है कि भारतीय महिला टीम सेमीफाइनल तक भी नही पहुंच सकी.

स्मृति मंधाना के सबसे पसंदीदा खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर है.

हॉलाकि वह अभी तक उनसे नही मिली है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सचिन तेंदूलकर

स्मृति ने बताया कि उन्होंने सबसे पहले अपने भाई के साथ टेनिस गेंद से क्रिकेट खेलना शुरू किया.

उनके पिता का भी उनकी क्रिकेट को संवारने में बेहद योगदान रहा.

स्मृति मंधाना भारत के लिए अभी तक दो टेस्ट मैच खेल चुकी है.

उन्होंने इंग्लैंड के ख़िलाफ साल 2014 में वर्मस्ले में पहला टेस्ट मैच खेला और दूसरी पारी में 51 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली.

उसे याद करते हुऐ स्मृति ने बताया कि उस मैच में आठ महिला खिलाड़ी अपना पहला टेस्ट मैच खेल रही थीं.

इमेज कॉपीरइट Harmanpreet kaur
Image caption हरमनप्रीत कौर, झूलन गोस्वामी और अन्य भारतीय महिला खिलाड़ी

तब हमें दूसरी पारी में जीत के लिए 181 रन बनाने थे.

एक सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर वहां 51 रनों की पारी खेलकर आत्मविश्वास आया.

भारतीय महिला टीम 6 विकेट से जीती.

इसके बाद उन्होंने दूसरा टेस्ट मैच मैसूर में दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ खेला. भारत ने तब दक्षिण अफ्रीकी टीम को एक पारी और 34 रन से हराया.

स्मृति मंधाना मानती है कि बिग बैश टी-20 लीग में 45 दिन में 14 मैच खेलने को मिलेंगे, वह भी दुनिया भर की खिलाड़ियों के बीच.

वह कहती है कि जैसे आईपीएल में भारतीय खिलाड़ी अंतराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों के साथ खेलते है और जैसे ही उन्हे भारत के लिए खेलने का अवसर मिलता है तो उन पर दबाव नही होता.

ऐसे ही भारतीय महिला खिलाड़ियों को बिग बैश लीग मदद करेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)