'भारत-पाकिस्तान को एक ग्रुप में न रखें'

इमेज कॉपीरइट AP

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई ने क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से अपील की है कि दोनों देशों को आईसीसी के अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में एक ग्रुप में न रखा जाए.

पाकिस्तान पिछले कई वर्षों से भारत के साथ द्विपक्षीय सिरीज कराने के लिए प्रयासरत रहा है लेकिन ताजा घटनाक्रमों के बाद दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति बन गई है.

भारत प्रशासित कश्मीर के उड़ी सेक्टर में सैन्य छावनी पर चरमपंथी हमले के बाद भारत ने गुरुवार को दावा किया कि उसने नियंत्रण रेखा पर सर्जिकल स्ट्राइक किए हैं. हालाँकि पाकिस्तान ने भारत के इस दावे का खंडन किया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार शुक्रवार को बीसीसीआई ने कहा कि भारत पाकिस्तान के साथ बहुपक्षीय टूर्नामेंटों में खेलने से भी बचेगा.

बोर्ड अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने कहा, "सरकार ने पाकिस्तान को अलग थलग करने की रणनीति अपनाई है और आतंकवादी हमले में शहीद हुए जवानों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए हमने आईसीसी से अपील की है कि वह दोनों देशों को एक ग्रुप में न रखे."

इमेज कॉपीरइट BCCI

अनुराग ठाकुर ने कुछ दिन पहले भी पाकिस्तान के साथ किसी प्रकार के क्रिकेट संबंधों की बात को खारिज किया था.

अब बोर्ड ने इस दिशा में कदम उठाते हुए आईसीसी से भविष्य में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंटों में पाकिस्तान को उसके साथ एक ग्रुप में न रखने की अपील की है.

ठाकुर ने कहा कि यदि दोनों टीमें टूर्नामेंट के सेमीफ़ाइनल में भिड़ती हैं तो स्थिति अलग है.

अगले साल ब्रिटेन में चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन होना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)