क्या न्यूज़ीलैंड क्लीन स्वीप से बच पाएगा?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption विराट कोहली

जीत के रथ पर सवार भारतीय क्रिकेट टीम शनिवार से न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ इंदौर में मौजूदा टेस्ट सिरीज़ का तीसरा और आखिरी टेस्ट मैच खेलने उतरेगी.

भारत इससे पहले कानपुर और कोलकाता में खेले गए टेस्ट मैच जीतकर पहले ही इस सिरीज़ में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर चुका है.

अब उसका इरादा 3-0 से जीत हासिल कर इस सिरीज़ में न्यूज़ीलैंड का क्लीन स्वीप करने का होगा.

वैसे भारत के कप्तान विराट कोहली की थोडी चिंता अपने नियमित सलामी बल्लेबाज़ के एल राहुल और शिखर धवन के चोटिल होने के अलावा तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार के पीठ में दर्द के कारण बाहर होने को लेकर होगी.

भुवनेश्वर कुमार की जगह उमेश यादव खेल सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption शिखर धवन-विराट कोहली

ऐसे में सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय का साथ देने के लिए गौतम गंभीर को मौक़ा मिल सकता है.

इससे पहले गौतम गंभीर ने अपना पिछला टेस्ट मैच साल 2014 में इंग्लैंड के ख़िलाफ ओवल में खेला था.

तब गौतम गंभीर पहली पारी में बिना खाता खोले और दूसरी पारी में केवल तीन रन बनाकर रन आउट हो गए थे.

वैसे गौतम गंभीर अभी तक 56 टेस्ट मैचों की 100 पारियों में 9 शतक और 21 अर्धशतक की मदद से 4046 रन बना चुके हैं.

भारत को अपनी ही ज़मीन पर इस साल लगातार टेस्ट मैच खेलने हैं, ऐसे में अगर वह दमदार प्रदर्शन करते हैं तो उनका टेस्ट करियर एक नई राह पकड़ सकता है.

घरेलू स्तर पर गौतम गंभीर का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा है.

उन्होंने पिछले दिनो दिलीप ट्रॉफी में इंडिया रैड के ख़िलाफ 77, इंडिया ग्रीन के ख़िलाफ 90 और 59 तथा फाइनल में इंडिया रैड के ख़िलाफ 94 और 36 रनों की पारी खेली. उनके इसी प्रदर्शन से उनकी टेस्ट टीम में वापसी हुई.

इमेज कॉपीरइट jpg
Image caption गौतम गंभीर

वैसे गौतम गंभीर ने अपने टेस्ट करियर की सबसे बेहतरीन टेस्ट पारियों में से एक न्यूज़ीलैंड के ही ख़िलाफ साल 2009 में नेपियर में खेली थी.

तब न्यूज़ीलैंड ने दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में 9 विकेट पर 619 रन बनाकर अपनी पहली पारी समाप्त करने की घोषणा की.

जवाब में भारत की पहली पारी 305 रनों पर सिमट गई. भारत को 314 रनों से फॉलॉआन का सामना करना पडा.

लेकिन दूसरी पारी में गौतम गंभीर जीवट की पारी खेलते हुए 643 मिनट मैदान में बिताकर 137 रन बनाए. मैच ड्रा रहा.

हांलाकि तब वीवीएस लक्ष्मण ने भी नाबाद 124 रन बनाए. मैच ड्रा रहा.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption वीवीएस लक्ष्मण

इसके बाद गंभीर ने वेलिग्टन में खेले गए तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच की दूसरी पारी में भी 167 रनों की शतकीय पारी खेली.

अब अगर न्यूज़ीलैंड की बात करे तो उसके कप्तान केन विलियमसन पूरी तरह फिट है. वह बीमार होने के कारण दूसरा टेस्ट मैच नही खेल सके थे.

न्यूज़ीलैंड की सबसे बड़ी समस्या उनके सलामी बल्लेबाज़ मार्टिन गप्टिल और उसके बाद रोस टेलर का एक बार जमने के बाद बड़ी पारियां खेलने में नाकाम रहना है.

वहीं भारत के कप्तान विराट कोहली भी इंदौर में यादगार बल्लेबाज़ी करना चाहेंगे.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption केन विलियमसन

अब देखना है कि इंदौर में जहां इससे पहले भारत ने चार एकदिवसीय अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेले हैं और चारो ही जीते हैं, क्या वहां न्यूज़ीलैंड भारत से पार पा पाता है या नही.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)