दो ऑस्ट्रेलियाई ठग गोल्फर बनकर घूम आए उत्तर कोरिया

इमेज कॉपीरइट LUPINETRAVEL.CO.UK
Image caption 28 वर्षीय मॉर्गन और इवान गोल्फ खिलाड़ी नहीं हैं.

दो ऑस्ट्रेलियाई लड़के सड़क के रास्ते उत्तर कोरिया गए और वहां आयोजित एक अंतरराष्ट्रीय गोल्फ प्रतियोगिता में धोखाधड़ी से वर्ल्ड क्लास गोल्फ़र बनकर शामिल हुए.

28 वर्षीय मॉर्गन और इवान गोल्फ़ खिलाड़ी नहीं हैं. फिर भी दोनों ने ख़ुद को ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बताकर प्रतियोगिता में शिरकत की. वहां बेहद ख़राब प्रदर्शन किया. लेकिन तमाम सुविधाओं के बीच उत्तर कोरिया में अच्छा वक्त बिताकर वहां से सुरक्षित लौट आए.

मॉर्गन ने बताया, ''हम दोनों दोस्त बीजिंग की यात्रा पर थे, जिस वक्त हमें इस प्रतियोगिता के बारे में पता लगा. हमने हरे रंग की ऑस्ट्रेलियाई वर्दी लेकर इस प्रतियोगिता में शामिल होने का मन बनाया और उत्तर कोरिया चले गए.''

इमेज कॉपीरइट LUPINETRAVEL.CO.UK
Image caption इवान और मॉर्गन इसे एक बेहतरीन तजुर्बा मानते हैं.

दो दिन चला यह टूर्नामेंट उत्तर कोरिया के प्योंगयेंग शहर में आयोजित हुआ था, जिसमें दुनिया भर के 85 प्रतियोगियों ने हिस्सा लिया था. इस दौरान दोनों ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने सरकारी ख़र्च पर उत्तर कोरिया की सैर की और उत्तर कोरियाई सरकार को ठगने में कामयाब रहे.

कूरियर-मेल को दिए इंटरव्यू में मॉर्गन ने कहा, "बॉर्डर पर जब हमने अपने पासपोर्ट दिखाए, तो हम काफ़ी डरे हुए थे. हमने ऐसी बहुत सी कहानियां सुनी थीं, जिनमें यात्रियों को बंदी बनाए जाने का ज़िक्र था."

इवान इस सफ़र को याद करते हुए कहते हैं, "हम प्रोफेशनल खिलाड़ी नहीं हैं. इसलिए हमारा प्रदर्शन वहां बेहद ख़राब था. लेकिन इस यात्रा पर हमें जिस तरह के लोग मिले, उन्हें हम कभी भूल नहीं पाएंगे."

इवान और मॉर्गन इसे एक बेहतरीन तजुर्बा मानते हैं, लेकिन सलाह देते हैं कि यात्री ऐसी कोशिश बेहद सोच समझकर ही करें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)