अश्विन-एंडरसन भिड़ंत में कोहली बने 'अंपायर'

इमेज कॉपीरइट AP

मुंबई टेस्ट के पांचवें दिन का खेल महज़ आधे घंटे में सिमट गया. इंग्लैंड की टीम सिर्फ़ आठ ओवर तक टिकी और 13 रन बटोरकर चारों बल्लेबाज़ लौट गए.

लेकिन भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ियों के बीच बल्लों की जगह तलवारें खिंचने के लिए ये आधा घंटा भी काफ़ी साबित हुआ.

भारत ने मुंबई टेस्ट जीता, सिरीज़ पर कब्ज़ा

जयंत- पिता और कोच ने बताए कामयाबी के राज़

भारतीय टीम के निशाने पर थे इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ जिमी एंडरसन. जब वो बल्लेबाज़ी करने मैदान पर आए तो रविचंद्रन अश्विन ने तल्ख़ शब्दों से उनका स्वागत किया.

एंडरसन-अश्विन के बीच तल्ख़ी

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मामला आगे बढ़ा, तो कप्तान विराट कोहली बीच-बचाव के लिए आगे आए. मैच के बाद जब इस गरमा-गरमी के बारे में पूछा गया तो कोहली ने चुटकी लेते हुए कहा, ''शायद पहली बार ऐसा वाकया हुआ कि किसी मामले में जेम्स एंडरसन शामिल थे और मैं मामला शांत कराने की कोशिश कर रहा था.''

उन्होंने कहा, ''अश्विन, एंडरसन की उन बातों को लेकर ख़ुश नहीं थे, जो उन्होंने प्रेस में कहीं. मुझे इस बारे में और कुछ नहीं पता था. अश्विन ने मुझे मैदान में इसके बारे में बताया. इसलिए मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहा जाए. मुझे तो हंसी आ रही थी.''

कोहली ने कहा, ''मुझे लगता है कि अश्विन, एंडरसन की बातों से निराश थे और कहना चाह रहे थे कि हार को भी स्वीकार करना चाहिए. बाद में मैंने जेम्स से कहा कि ये सब चलता रहता है और हमें आगे बढ़ना चाहिए.''

एंडरसन ने उठाया था कोहली पर सवाल

एंडरसन ने हाल में कहा था कि भारतीय पिचों का मिजाज़ ऐसा है कि कोहली की ख़ामियां छिप गई हैं.

उन्होंने कहा, ''मुझे नहीं लगता उनमें (कोहली) कुछ बदलाव आया है. हमें इंग्लैंड में उनके ख़िलाफ़ कामयाबी मिली थी, लेकिन यहां की पिचें इतनी धीमी हैं कि उनकी तकनीकी ख़ामियां सामने नहीं आ रहीं.''

भारतीय कप्तान चार टेस्ट मैच में 128 की औसत से रन बना रहे हैं, जिसमें चौथे टेस्ट में शानदार 235 रन शामिल हैं.

कोहली साल 2014 में इंग्लैंड में खेली गई टेस्ट सिरीज़ में नाकाम रहे थे और एंडरसन ने चार दफ़ा उन्हें पवेलियन लौटाया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे