कई किंतु-परंतु के बीच होंगे भारत-इंग्लैंड वनडे

इमेज कॉपीरइट PA

सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और सचिव अजय शिर्के को उनके पद से हटा दिया है.

इस फ़ैसले के बाद एक तात्कालिक संकट ये उत्पन्न होता दिख रहा है कि भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही मौजूदा क्रिकेट सिरीज़ का क्या होगा?

'अनुराग फील्डिंग में बाधा' डालने पर आउट'

हालांकि सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस टीएस ठाकुर ने अपने फ़ैसले में इस बात को रेखांकित किया है कि मौजूदा सिरीज़ पर कोई रुकावट नहीं आएगी.

भारत और इंग्लैंड के बीच मौजूदा सिरीज़ का पहला वनडे 15 जनवरी को पुणे में होना है.

इमेज कॉपीरइट AP

वरिष्ठ क्रिकेट पत्रकार अयाज मेमन ने बीबीसी से बातचीत में कहा, "पहला वनडे पुणे में है और यहीं से अजय शिर्के आते हैं. ऐसे में अगर उनका राज्य संघ ये फ़ैसला ले लेता है कि हम मैच का आयोजन नहीं करेंगे, सुप्रीम कोर्ट अब इसकी व्यवस्था करे तब तो मुश्किल होगी."

ऐसे में बड़ा सवाल ये भी है कि क्या महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन इतना बड़ा जोख़िम ले सकता है, इस पर अयान मेमन का मानना है, "ये सिरीज़ महज एक क्रिकेट सिरीज़ भर नहीं है. इसमें टीवी प्रसारक और विज्ञापनदाताओं की अहम भूमिका होती है. तो मेरे ख़्याल से सिरीज़ पर असर नहीं पड़ेगा."

क्रिकेट बोर्ड को क्लीन बोल्ड करने वाले जस्टिस लोढ़ा

अयाज मेमन की बात की पुष्टि वरिष्ठ क्रिकेट पत्रकार सी शेखर लूथरा भी करते हैं. उन्होंने बताया, "बीसीसीआई अध्यक्ष और सचिव के पद केवल सिग्नेचरी पोस्ट होते हैं. बीसीसीआई के अंदर एक पूरी व्यवस्था काम करती है, ऐसे में सिरीज़ पर कोई असर नहीं होगा."

हालांकि सिरीज़ के मैचों के आयोजन पर लाखों रूपये खर्च होंगे, यही वजह है कि सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई के मौजूदा उपाध्यक्षों में सबसे सीनियर को सिग्नेचरी अधिकार देने का फ़ैसला लिया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

तो ये अधिकार किसको मिलेगा. मौजूदा समय में बीसीसीआई के पांच उपाध्यक्ष हैं. पश्चिम क्षेत्र से टीसी मैथ्यू, मध्य क्षेत्र से सीके खन्ना, पूर्व क्षेत्र से गौतम राय, उत्तर क्षेत्र से एमएल नेहरू और दक्षिण क्षेत्र जी. गंगा राजू बीसीसीआई में उपाध्यक्ष हैं.

इनमें उत्तर क्षेत्र के उपाध्यक्ष एमएल नेहरू सबसे जूनियर हैं लेकिन लोढा समिति की अनुशंसाओं के आधार वे इस पद के लिए सबसे उपयुक्त दावेदार के तौर पर उभर सकते हैं.

क्योंकि बाक़ी चारों उपाध्यक्ष बीसीसीआई में लगातार दो कार्यकाल से ज़्यादा समय से अपने पदों पर हैं, जबकि एमएल नेहरू पहली बार उपाध्यक्ष बने हैं.

हालांकि सभी उपाध्यक्ष अभी 70 साल से कम ही उम्र के हैं. ऐसे में देखना होगा कि क्या इंग्लैंड के साथ होने वाली मौजूदा सिरीज़ के लिए होने वाली व्यवस्था, लोढ़ा समिति की अनुशंसाओं के मुताबिक होती है या थोड़ी ढील के साथ.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे