पाक क्रिकेटर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में सस्पेंड

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मोहम्मद इरफ़ान

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद इरफ़ान को निलंबित कर दिया है और उन्हें 14 दिन में अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा गया है.

पाकिस्तान सुपर लीग में स्पॉट फिक्सिंग स्कैंडल का साया रहा था और कुछ खिलाड़ियों पर इसमें शामिल होने के आरोप लगे थे.

मोहम्मद इरफ़ान सोमवार को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी के एंटी करप्शन यूनिट के सामने पेश हुए थे और अपना बयान दर्ज कराया था.

बीबीसी संवाददाता अब्दुल शकूर के अनुसार मोहम्मद इरफ़ान पर आरोप है कि उन्होंने संदिग्ध व्यक्तियों से अपने कथित संपर्कों के बारे में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की भ्रष्टाचार निरोधी इकाई को सूचित नहीं किया था.

मोहम्मद इरफ़ान ने पाकिस्तान सुपर लीग में इस्लामाबाद यूनाइटेड का प्रतिनिधित्व किया था.

आईपीएल में कैसे हुई 'स्पॉट फिक्सिंग'?

इसी जांच के सिलसिले में कराची किंग्स के ओपनिंग बल्लेबाज़ शाह शोभा हसन मंगलवार को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के एंटी करप्शन यूनिट के सामने पेश होंगे.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड दो क्रिकेटरों शरजील ख़ान और ख़ालिद लतीफ को पहले ही निलंबित कर चुका है.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इस भ्रष्टाचार स्कैंडल की जांच के लिए तीन सदस्यीय ट्रिब्यूनल भी गठन किया है जिसके अध्यक्ष न्यायमूर्ति सेवानिवृत्त असग़र हैदर हैं और इसमें लेफ्टिनेंट जनरल सेवानिवृत्त तौक़ीर ज़िया और वसीम बारी शामिल हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे