मेसी को भारी पड़ा रेफरी पर चिल्लाना

  • 29 मार्च 2017
इमेज कॉपीरइट AP

फुटबॉल की विश्व संस्था फीफा ने अर्जेंटीना के फुटबॉल खिलाड़ी लियोनेल मेसी के चार अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया है.

फीफा के अनुसार मेसी ने फीफा की अनुशासन संहिता का अवमानना की है.

उन पर 10,000 स्विस फ्रेंक यानी 6 लाख 50 हज़ार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है.

तोड़ी गई स्टार फ़ुटबॉलर मेसी की प्रतिमा

मेसी अपने छह साल के फैन से मिले

इमेज कॉपीरइट AFP

फीफा की अनुशासनात्मक समिति का कहना है कि 23 मार्च 2017 को अर्जेंटीना और चिली के बीच 2018 फीफा विश्वकप के एक मुकाबले में मेसी सहायक रेफरी पर चिल्लाए थे और उनके लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया था.

मेसी बोलिविया में एक अहम मैच में खेलने वाले थे, जिसके घंटों पहले फुटबॉल की विश्व संस्था फ़ीफा ने इस फैसले की घोषणा की.

मेसी ने की अर्जेंटीना की टीम में वापसी

लियोनेल मेसी को '21 महीने क़ैद' की सज़ा

इमेज कॉपीरइट AP

इस प्रतिबंध के बाद बार्सिलोना के खिलाड़ी मेसी बुधवार को ले पेज़ में होने वाले मुकाबले में नहीं खेल सकेंगे.

उन पर लगे इस प्रतिबंध से उनके फैन हताश हैं, जिन्हें लगता है कि इससे विश्वकप जीतने के देश की उम्मीदों पर रोक लग गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे