पाकिस्तान के सबसे सफल कप्तान ने किया टेस्ट क्रिकेट को टाटा

  • 6 अप्रैल 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मिस्बाह उल हक को हाल ही में विजडन ने 2016 के पांच सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों की सूची में शामिल किया है

पाकिस्तान की टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान मिस्बाह उल हक ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है.

2010 में पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर लगे स्पॉट फ़िक्सिंग के आरोपों के बाद टीम को फिर से खड़ा करने और दुनिया की श्रेष्ठ टेस्ट टीम बनाने में मिस्बाह का बड़ा योगदान है.

मिस्बाह उल हक ने कहा है है कि वेस्टइंडीज़ के खिलाफ टेस्ट सिरीज उनके करियर की आखिरी सिरीज़ होगी.

मिस्बाह उल हक ने ये घोषणा गुरुवार को गद्दाफी स्टेडियम में नैशनल कैम्प के आखिर में मीडिया के सामने की.

गौरतलब है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष ने भी बुधवार को मिस्बाह के संन्यास के बारे में जानकारी दी थी.

इमेज कॉपीरइट AFP/Getty Images

बीबीसी उर्दू संवाददाता अब्दुल शकूर के अनुसार मिस्बाह उल हक ने कहा कि वे अपने रिटायरमेंट के बारे में बिल्कुल स्पष्ट थे कि वेस्टइंडीज के खिलाफ उनकी आखिरी सिरीज होगी.

मिस्बाह उल हक़ कहेंगे वनडे को अलविदा

मिसबाह-उल-हक़ ने लगाई रिकॉर्डों की झड़ी

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज में कभी टेस्ट सीरीज़ नहीं जीती है और मिस्बाह चाहते हैं कि अच्छे प्रदर्शन और जीत के साथ वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहें.

मिस्बाह उल हक ने स्पष्ट कर दिया कि क्रिकेट बोर्ड से उनकी कोई डील नहीं हुई और न ही उन पर किसी प्रकार का कोई दबाव रहा कि वह संन्यास ले लें.

पाकिस्तानी कप्तान ने कहा कि वह कुछ समय घरेलू क्रिकेट खेलते रहेंगे.

मिस्बाह उल हक ने 72 टेस्ट मैचों में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करते हुए 10 शतकों और 36 अर्धशतकों की मदद से 4951 रन बनाए हैं.

उन्होंने पाकिस्तान की तरफ से सर्वाधिक 53 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है जिनमें से 24 जीते, 18 हारे और 11 बराबरी पर रहे.

वह जीत के आधार पर पाकिस्तान के सबसे सफल कप्तान हैं.

उम्रदराज़ मिसबाह की सेंचुरी पर वाहवाही

पाकिस्तान भी खेल गया तो क्या बिगड़ गया

बुज़दिल और डरपोक हैं मिस्बाह: शोएब

मैच फ़िक्सिंग और शोएब अख़्तर

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे