टेनिस की सनसनी मारिया शरापोवा फिर कामयाब होंगी?

  • 24 अप्रैल 2017
मारिया शरापोवा इमेज कॉपीरइट Getty Images

रूसी टेनिस स्टार और पूर्व विश्व नंबर वन मारिया शरापोवा अपने करियर की सबसे मुश्किल चुनौती का सामना करने वाली हैं.

ये है प्रतिबंधित दवाओं के इस्तेमाल के कारण उन पर लगाए गए 15 महीने के बैन के बाद, उनका टेनिस कोर्ट में लौटना.

मार्च 2016 में शरापोवा ने यह स्वीकार किया था कि साल के पहले ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में उन्होंने एक प्रतिबंधित दवा का इस्तेमाल किया था. इसके बाद उन पर दो साल का प्रतिबंध लगा था लेकिन अपील में इसे कम करके 15 महीने कर दिया गया था.

इसके साथ ही यह सवाल भी उठता है कि क्या मारिया शरापोवा खेल के मैदान से बाहर अपने स्पॉन्सर्स से पहले की तरह कमाई कर सकेंगी?

30 वर्षीय शरापोवा जर्मनी के शहर स्टटगार्ट में 26 अप्रैल से शुरू होने वाले टूर्नामेंट में शिरकत करेंगी. इसके लिए उन्हें वाइल्डकार्ड इंट्री दी गई है.

शरापोवा की कुछ साथी खिलाड़ियों ने उनकी खेल में वापसी पर अपनी चिंताएं जाहिर की हैं.

लेकिन महिला टेनिस संगठन वीमेन टेनिस एसोसिएशन (डब्ल्यूटीए) और शरापोवा के प्रशंसक उनका भरपूर समर्थन कर रहे हैं.

टेनिस कोर्ट और कोर्ट से बाहर पैसे कमाने में शरापोवा की सबसे बड़ी प्रतिद्वंद्वी सेरेना विलियम्स मां बनने वाली हैं और इस वजह से वे खेल से दूर हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट

फोर्ब्स मैगज़ीन के अनुसार जून 2015 से अब तक शरापोवा ने खेलों से केवल 19 लाख डॉलर की कमाई की है लेकिन अपने स्पॉन्सर्स की मदद से उन्होंने दो करोड़ डॉलर की रकम जुटाई है जो केवल सेरेना विलियम्स कर सकी हैं.

और खेल में वापसी के बाद शरापोवा का ध्यान आमदनी के इस जरिये को बहाल करना होगा.

सैलफोर्ड यूनिवर्सिटी में स्पोर्ट्स के प्रोफेसर साइमन चैड्विक कहते हैं, "खेल से दूर रहने के बावजूद शरापोवा ने अपने स्पॉन्सर्स से रिश्ता बनाए रखा होगा. लेकिन मुझे विश्वास है कि इन स्पॉन्सर्स ने उनके साथ किए जाने वाले समझौतों में प्रतिबंध की सूरत में जुर्माने की शर्त रखी होगी."

अमरीकी गोल्फर टाइगर वूड्स के विवाहेतर संबंधों की खबर सामने आने के बाद उनके स्पॉन्सर्स ने जिस तेजी से उनका साथ छोड़ था, ऐसा शरापोवा के मामले में नहीं हुआ.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

शरापोवा पर प्रतिबंध

प्रोफेसर चैड्विक के अनुसार, "इसका कारण यह है कि स्पॉन्सर्स ने शरापोवा पर बहुत पैसे खर्च किए हैं. जब भी वह खेल में वापस आती हैं और फिर उपलब्धियां हासिल करना शुरू करती हैं, तो शरापोवा से अनुबंध खत्म करने की सूरत में मुमकिन है कि उनके प्रतिद्वंदी मारिया से समझौता कर लें."

शरापोवा पर प्रतिबंध के बाद स्पॉन्सर्स का रवैया मिलाजुला देखा गया था. 'हेड और एवियन' ने तुरंत उनका समर्थन किया जबकि 'पॉर्श' और 'नाइके' ने अनुबंध में कुछ समय के लिए विराम दे दिया लेकिन बाद में फिर साथ आ गए. 'टैग ह्यूअर' और 'एवन' ने प्रतिबंध के बाद समझौते खत्म कर दिए.

यूरोपीय स्पॉन्सरशिप एसोसिएशन के चेयरमैन कैरन अर्ल ने कहा कि इस पूरे मामले से यह साबित होता है कि शरापोवा खुद एक ब्रांड हैं. मीडिया उन्हें बहुत महत्व देता है और उनकी वापसी की खबर की बहुत चर्चा है. इससे पता चलता है कि वह कितनी महत्वपूर्ण हैं और महिला टेनिस को उनकी जरूरत है. यही वजह है कि कंपनियां उनके साथ किए गए समझौते जारी रखना चाहती हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मशहूर टेनिस खिलाड़ी

कैरन अर्ल ने कहा, "क्योंकि शरापोवा ने आरोप लगने के तुरंत बाद अपनी गलती स्वीकार कर ली थी तो इसलिए उनकी प्रतिष्ठा को बहुत ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा. शरापोवा ने तुरंत स्वीकार कर लिया कि उन्होंने एक गलत काम किया है और अपनी गलती पर माफी मांगी और कहा कि ऐसा फिर नहीं होगा.

तथ्य यह है कि दर्शक शरापोवा के खिलाफ नहीं हुए थे और उनकी प्रतिष्ठा इतनी प्रभावित नहीं हुई थी, शायद इसलिए भी शरापोवा के स्पॉन्सर्स ने उनका साथ दिया."

डब्ल्यूटीए के प्रमुख स्टीव साइमन ने भी कहा है कि 'टेनिस खेलने वाले और टेनिस देखने वाले दोनों शरापोवा वापस आने के बाद आपका स्वागत है कहेंगे."

कैरन अर्ल का कहना है कि शरापोवा के प्रायोजक केवल इसलिए समर्थन नहीं कर रहे हैं क्योंकि वे एक सफल टेनिस प्लेयर हैं, "वह समर्थन इसलिए कर रहे हैं क्योंकि वे खेल मैदान से बाहर भी बहुत सफल हैं. वे बुद्धिमान हैं और उनमें व्यावसायिक सूझबूझ है. यह सराहनीय बात है कि इतने समय खेल से बाहर रहने के बावजूद अब भी महिलाओं में वह सबसे मशहूर टेनिस खिलाड़ी हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे