धोनी की रणनीति चलेगी या सहवाग का दांव?

  • 14 मई 2017
इमेज कॉपीरइट Reuters

आईपीएल में क्वार्टर फाइनल मुक़ाबला नहीं होता लेकिन प्वाइंट टेबल की स्थिति ने राइजिंग पुणे सुपर जायंट्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच रविवार को होने वाले मैच की स्थिति क्वार्टर फाइनल जैसी बना दी है.

अब से थोड़ी देर में पुणे में शुरु होने वाले मैच में जीतने वाली टीम प्लेऑफ़ में जगह बनाएगी.

'मैदान कोहली का और गूंज धोनी-धोनी की'

फिर छाए महेंद्र सिंह धोनी, फ़ैंस ने कहा- "जाग गया बूढ़ा शेर"

पुणे के खाते में 16 और पंजाब के खाते में 14 अंक हैं. जीत की स्थिति में पुणे को सीधे प्लेऑफ़ में जगह मिल जाएगी. वहीं अगर पंजाब को जीत मिली तो बेहतर रन रेट के आधार पर उसे प्लेऑफ़ में जगह मिलेगी और पुणे की टीम बाहर हो जाएगी.

सहवाग ने बदली टीम

पुणे और पंजाब दोनों ही टीमों में कई मैच विनर हैं लेकिन रविवार के मुकाबले को वीरेंद्र सहवाग और महेंद्र सिंह धोनी की टक्कर के तौर पर भी देखा जा रहा है.

टीम इंडिया में खेलते वक्त भी इन दोनों खिलाड़ियों संबंध चर्चा में बने रहते थे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सहवाग प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं हैं. वो डग आउट या ड्रेसिंग रुम में बैठकर किंग्स इलेवन के लिए रणनीति बनाते हैं लेकिन टीम के खेल पर उनकी छाप साफ़ दिखती है.

सहवाग की मौजूदगी ने हाशिम अमला जैसे टेस्ट एक्सपर्ट बल्लेबाज को आईपीएल के सबसे तूफानी बल्लेबाज़ों की कतार में ला दिया, मौजूदा सीजन में दो शतक बना चुके अमला की बल्लेबाज़ी शैली में आए बदलाव को सहवाग की रणनीति से जोड़कर देखा जा रहा है. हालांकि वे आज के मैच के लिए उपलब्ध नहीं होंगे.

'20 साल में पहली बार डिफ़ेंसिव हुए सहवाग'

इतना ही, रिद्धिमान साहा भी मैच विनर का टैग हासिल कर चुके हैं. पंजाब के कप्तान ग्लेन मैक्सवेल और शॉन मार्श तो तेज़ तर्रार बल्लेबाज़ी के लिए मशहूर रहे ही हैं.

धोनी पर दारोमदार

उधर, पुणे के सबसे कामयाब बल्लेबाज़ कप्तान स्टीव स्मिथ हैं. धोनी कप्तानी से अलग हो चुके हैं और उनका बल्ला भी उम्मीद के मुताबिक नहीं चल रहा है.

लेकिन, दिल्ली के खिलाफ मैच में पुणे की हार की सबसे बड़ी वजह धोनी का रनआउट होना माना गया. इसी मैच में एक शानदार स्टंपिंग करते हुए धोनी ने दिखाया कि उनका 'मिडास टच' अभी बाकी है.

इमेज कॉपीरइट AFP

धोनी का बल्ला भी जिस मैच में बोला है, वो विरोधी गेंदबाज़ों की बोलती बंद करने में कामयाब रहे हैं. बड़े मैचों को जीतने का उनका इतिहास भी रविवार के मैच में धोनी की अहमियत बढ़ा रहा है.

शर्मा जोड़ी का कमाल

गेंदबाज़ी की बात करें तो पुणे के जयदेव उनदकट और इमरान ताहिर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में दूसरे और तीसरे नंबर पर हैं. उन्होंने 19 और 18 विकेट लिए हैं.

इमेज कॉपीरइट Pti

वहीं बीते दो मैचों में डेथ ओवरों में शानदार गेंदबाज़ी करने वाले संदीप शर्मा और मोहित शर्मा ने किंग्स इलेवन के प्लेऑफ़ में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार रखने में सबसे अहम रोल निभाया है. संदीप अब तक 17 विकेट ले चुके हैं.

पंजाब के साथ जीत की लय है तो पुणे के पास घर में खेलने का फ़ायदा. और दोनों टीमों की नज़र मुंबई इंडियन्स, सनराइज़र्स हैदराबाद और कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ प्लेऑफ़ में पहुंचने पर है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे