आईपीएल-10 के सितारे जो हो सकते हैं जुदा

इमेज कॉपीरइट Pti
Image caption शिखर धवन-डेविड वार्नर

रविवार को हैदराबाद में मुंबई इंडियंस ने बेहद रोमाचंक फाइनल में राइज़िंग पुणे सुपरजाएंट्स को केवल एक रन से हराकर आईपीएल-10 फाइनल जीत लिया.

इस बार आईपीएल में चमकने वाले शीर्ष पांच बल्लेबाज़ो में सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान ऑस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर पहले स्थान पर रहे.

उन्होंने 14 मैच में एक शतक और चार अर्धशतक की मदद से 641 रन बनाए. उन्हें ऑरेंज कैप मिली.

डेविड वार्नर की कप्तानी में खेलते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने आईपीएल-9 का ख़िताब भी जीता था.

गंभीर की पारी

इस बार सनराइजर्स हैदराबाद अंतिम चार में तो पहुंची लेकिन एलिमिनेटर मुक़ाबले में कोलकाता नाइटराइडर्स से डकवर्थ-लुइस नियम के आधार पर सात विकेट से हार गई.

कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर 16 मैच में चार अर्धशतक की मदद से 498 रन बनाकर दूसरे स्थान पर रहे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption गौतम गंभीर

सनराइजर्स हैदराबाद के शिखर धवन 14 मैच में तीन अर्धशतक सहित 479 रन के साथ तीसरे स्थान पर रहे.

राइज़िंग पुणे सुपरजाएंट्स के कप्तान स्टीव स्मिथ 15 मैचो में तीन अर्धशतक सहित 472 रन बनाकर चौथे स्थान पर रहे.

गुजरात लायंस के सुरेश रैना 14 मैचो में तीन अर्धशतक सहित 442 रन बनाकर पांचवे स्थान पर रहे.

भुवी को मिली पर्पल कैप

इसके अलावा गेंदबाज़ी में सनराइजर्स हैदराबाद के तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार 14 मैचो में 26 विकेट लेकर पहले स्थान पर रहे. उन्हे पर्पल कैप भी मिली.

राइज़िग पुणे सुपरजाएंट्स के जयदेव उनादकट ने भी 13 मैच में 26 विकेट झटके.

मुंबई इंडियंस के जसप्रीत बुमराह ने 16 मैचो में 20 विकेट लिए.

मुंबई इंडियंस के ही मिचेल मैकलंघन ने 14 मैच में 19 विकेट हासिल किए.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption इमरान ताहिर

ताहिर की चमक

राइज़िंग पुणे सुपरजाएंट्स के इमरान ताहिर भी इस बार ख़ासे चमके. उनहोंने 12 मैचो में 18 विकेट लिए.

वैसे इमरान ताहिर को आईपीएल-10 में खिलाड़ियों की नीलामी के पहले दौर में तो किसी भी टीम ने खरीदा ही नही.

लेकिन इसके बाद पुणे के मालिकों ने उन्हे अपनी टीम में चुना और वह स्टार गेंदबाज़ बनकर उभरे.

इसके अलावा मुंबई इंडियंस के नीतीश राणा ने भी बल्ले से ज़बरदस्त प्रदर्शन किया.

ख़ासकर उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के ख़िलाफ नाबाद 62 रन बनाकर अहम भूमिका अदा की जब टीम को जीत के लिए 199 रनो की ज़रूरत थी.

इस पारी में उन्होंने सात छक्के लगाकर सुर्खिया बटोरी. इसके अलावा उन्होंने गुजरात लायंस के ख़िलाफ 36 गेंद पर 53 रन बनाए.

दिल्ली डेयरडेविल्स के विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत ने भी अपना जलवा दिखाया. उन्होंने गुजरात लायंस के ख़िलाफ 97 रन बनाकर सबका ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया.

इस बार का आईपीएल किसी बड़े विवाद का शिकार नही हुआ.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption महेंद्र सिंह धोनी

धोनी को लेकर विवाद

हां. शुरूआती दौर में राइज़िंग पुणे सुपरजाएंट्स के मालिको ने महेंद्र सिंह धोनी के ख़िलाफ कुछ विवादास्पद ट्वीट ज़रूर किये. धोनी पर इसका असर नही पड़ा लेकिन उनके समर्थकों ने ऐसे-ऐसे जवाब दिए कि मालिक बैकफुट पर आ गए.

धोनी ने भी पहले क्वालिफायर में पांच छक्को की मदद से नाबाद 40 रन ठोककर दिखा दिया कि उनका दम-ख़म समाप्त नही हुआ है.

कमाल की बात है कि महेंद्र सिंह धोनी को आईपीएल ऑलटाइम-11 का कप्तान भी चुना गया.

रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लौर के कप्तान विराट कोहली, क्रिस गेल, एबी डी विलियर्स और शेन वाटसन की नाकामी पूरे आईपीएल में चर्चा का केंद्र बनी रही.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption विराट कोहली-ए बी डिविलियर्स

क्या होगा अगले साल

अगली बार आईपीएल का क्या होगा. यह सबसे बड़ा सवाल है. आईपीएल-10 के बाद अब सभी खिलाड़ी एक बार फिर नए सिरे से अगले साल नीलामी में आएंगे. कौन किस टीम के साथ जुडेगा यह तो समय ही बताएगा.

इतना ही नही अगर कुछ टीमें अपने स्टार खिलाड़ियों को एक बार फिर अपने साथ जोडना चाहेंगी तो उसकी क्या कीमत होगी. कितने विदेशी खिलाड़ी आएंगे.

इसके अलावा अगले आईपीएल में कितनी टीमें होंगी अभी कहा नही जा सकता. चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की वापसी होगी.

पुणे और गुजरात का क्या होगा, क्या 10 टीमों का आईपीएल होगा. जो भी हो फिलहाल तो यही कहा जा सकता है कि अंत भला तो सब भला.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे